बीडीपीओ कार्यालय में शिकायत लेकर पहुंचे हुए पंख्च
HARYANA KHAS KHABAR SAFIDON VS NEWS INDIA

एक ग्राम पंचायत ऐसी जिसमें पिछले डेढ़ साल से नहीं हो रहे कोई भी विकास कार्य

VS News India | Reporter – Sanju | Safidon : – उपमंडल की ग्राम पंचायत कारखाना ऐसी है, जिसके खाते में लाखों रुपए होने के बावजूद भी ग्रामीण विकास कार्यो से वंचित है। गांव के सरपंच उदय सिंह के पक्ष में पंचों का बहुमत पूरा नहीं होने के कारण, पिछले डेढ़ साल से गांव कारखाना में कोई भी विकास कार्य नहीं हो पाया है। ऐसे में कोरम पूरी नहीं होने से किसी भी ग्राम सभा में कोई भी एजेंडा पास नहीं हुआ। इस मामले को लेकर स्थानीय बीडीपीओ एसडीएम से लेकर डीडीपीओ के समक्ष भी दर्जन भर बैठके ग्राम पंचायत कारखाना के पंच के बीच हुई। लेकिन बैठकों में भी समाधान नहीं निकाला। यह मामला जींद डीसी से लेकर तत्कालीन पंचायत मंत्री अनिल विज तक भी पहुंचा, लेकर फिर भी कोई हल नहीं निकला। सरपंच की बीमारी के बाद विपक्ष में हुए छह पंच एसडीएम को पांच शिकायतें, डीडीपीओ व डीसी के साथ तत्कालीन पंचायत मंत्री अनिल विज को भी दो बार शिकायत लगा चुके है। शिकायतों के बाद भी अधिकारियों द्वारा ग्राम पंचायत सदस्यों की दर्जनों बैठके ली गई, लेकिन उन बैठकों में विपक्ष में हुए छह पंच बीमार सरपंच के साथ काम करने के लिए तैयार नहीं है। ऐसे में अब फिर पंच रविंद्र सिंह,  सत्यनारायण पंच, संजय पंच, रीतू पंचख्,विनोद पंच व चमेली पंच ने बीडीपीओ के समक्ष अपने संयुक्त ब्यान देकर कार्यवाहक सरपंच  का चुनाव करवाने की मांग की है। जिन्होंने मौजूदा सरपंच उदय सिंह को लंबी बीमारी के कारण मानसिक व शारीरिक तौर पर कमजोर  बताया है। 

विदित रहें कि ग्राम पंचायत कारखाना में ग्रामीणों द्वारा 11 पंच चुने गए थे। शुरू के दो साल तक सरपंच के साथ पंचों का कार्यकाल ठीक चला। जैसे ही सरपंच उदय सिंह द्वारा मानसिक रूप से परेशान होने के कारण छह माह के लिए सरपंच पद त्याग दिया गया, तो प्रशासन द्वारा छह माह के लिए गांव की पंच रीतू देवी को कार्यवाहक सरपंच चुना गया था। लेकिन छह माह के बाद 18 अक्तूबर 2018 को प्रशासन द्वारा सरपंच उदय सिंह का बिना मेडिकल करवाएं ही उन्हें सरपंच पद नियुक्त कर दिया गया था। 
बाक्स:-
ग्राम पंचायत के खाते में है विकास कार्यों के लिए 50 लाख रुपए की राशि:-
सरपंच उदय ङ्क्षसह द्वारा फिर से कार्यभार संभालने के बाद जब गांव भी गांव कोई विकास कार्य नहीं करवा सकें, जबकि  ग्राम पंचायत कारखाना के बैंक खाते में विकास कार्यांे के लिए 50 लाखों राशि जमा है। सरपंच किसी भी ग्राम सभा में कोई एजेंडा पास नहीं करवा सकें तो गांव के पंच रविंद्र सिंह, सत्यनारायण पंच, संजय पंच, रीतू पंचख्, विनोद पंच व चमेली पंच ने 20 फरवरी को बीडीपीओ के समक्ष अपने संयुक्त ब्यान देकर कार्यवाहक सरपंच का चुनाव करवाने की मांग की है। शिकायतकर्ता पंचों के आरोप है कि सरपंच उदय सिंह ना तो पंचों को पहचान पाता और ना ही हस्ताक्षर कर पाता है। सरपंच एजेंडा मीटिंग के दौरान भी रजिस्टर पर अपने हस्ताक्षर करने में असमर्थ है। जिसे पंचों से फिर से बदलने की मांग उठाई है। 
बाक्स:-
जिला उपायुक्त को भेजी जा चुकी है रिपोर्ट:
ग्राम पंचायत कारखाना की पूरी रिपोर्ट उपायुक्त को भेजी गई है। छह पंचों द्वारा जो कार्यवाहक सरपंच का चुनाव करवाने की मांग की गई है, उसमें भी उच्च अधिकारियों के पास भेज दिया गया है। उच्च अधिकारियों के आदेशों पर ही आगामी कार्रवाई शुरू की जाऐंगी…..मनदीप कुमार, एसडीएम सफीद

840
Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *