Thumbnail News Paper Lite
Big News HARYANA JIND

सोशल मीडिया पर अफ़वाह फैलाई तो होगी क़ानूनी करवाई

VS News India | Jind : – कोविड-19 संक्रमण संकट के समय किसी तरह की भ्रामक सूचना से विकट स्थिति पैदा हो सकती है, अपुष्ट सूचनाओं से आम जनता में भ्रम की स्थिति पैदा ना हो , इस लिहाज से सरकारी एजेंसियां भी इस बात पर कड़ी निगरानी रख रही हैं कि गलत अथवा आधारहीन सूचनाओं का प्रेषण न हो। कड़ी निगरानी रखने के लिए हरियाणा के सूचना व जनसम्पर्क विभाग के निदेशक पी सी मीणा ने राज्य स्तरीय व जिला स्तरीय टीमों का व्यापक गठ4-3-2020या है जो फ़ेसबुक, ट्विटर, यूटूब, वेब पॉर्टल्ज़, न्यूज़ चैनल्ज़, अन्य सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर नजऱ रखेंगे । इस संदर्भ में राज्य में हरियाणा पुलिस की साइबर सेल इस इस बात पर पहले से नजर रख रही है कि किसी भी तरह की भ्रामक सूचनाओं का प्रेषण न हो। सरकारी प्रवक्ता ने कहा कि आम जन को भी सोशल मीडिया अथवा अन्य कहीं से मिली कोई सूचना भ्रामक अथवा तथ्यों से परे लगती है तो वह इसकी सूचना पुलिस व स्थानीय प्रशासन को दे तथा स्रद्बश्चह्म्द्घड्डष्ह्लष्द्धद्गष्द्मञ्चद्दद्वड्डद्बद्य.ष्शद्व पर भी भेज सकता है। सरकारी प्रवक्ता के अनुसार सोशल मीडिया पर  अफवाह  या बिना पुष्टि किये गलत पोस्ट करने या फारवर्ड करने वालो खिलाफ आईपीसी की विभिन्न धाराओं के साथ साथ आईटी एक्ट व एपिडेमिक एक्ट में मामला दर्ज हो सकता है ,कानून में इसके लिये सजा का प्रावधान भी है। ऐसे में लोगों को सतर्क रहने की जरूरत है और सभी से अपील भी है कि  वे सहयोग करे और सोशल मीडिया पर कोई भी पोस्ट या फ़ॉर्वर्ड जिम्मेदारी के साथ ही करे  ताकि इस वैश्विक संकट में भ्रम की स्थिति पैदा न हो।

290
Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *