खानसर चौंक पर गिरा नवनिर्मित स्वागत द्वार का गिरा ऊपरी हिस्सा
Big News HARYANA SAFIDON VS NEWS INDIA

खानसर चौंक पर गिरा नवनिर्मित स्वागत द्वार का ऊपरी हिस्सा

VS News India | Reporter – Sanju | Safidon : – रविवार देर सांय अचानक नगर के ख्खानसर चौंक पर नवनिर्मित स्वागत द्वार ऊपरी हिस्सा गिर गया लेकिन गनीमत यह रही कि जानमाल का कोई नुकसान नहीं हुआ। समाचार लिखे जाने तक पुलिस मौके पर थी तथा जेसीबी मंगवाकर मार्ग को बहाल करवा दिया गया था। मिली जानकारी के अनुसार देर सांय तक खानसर चौंक पर सबकुछ ठीकठाक था लेकिन अचानक से नवनिर्मित स्वागत द्वार का ऊपरी हिस्सा भरभराकर धरती में आ गिरा। द्वार के बड़े-बड़े पम्त्थर धरती पर गिरने के कारण एकदम से जोरदार आवाज हुई और लोग घबरा गए। अपने आप को संभालकर लोगों ने देखा कि द्वार का ऊपरी हिस्सा गिर गया है। लोगों ने मलबे के पास जाकर देखा कि कोई इसकी चपेट में तो नहीं आ गया लेकिन सबकुछ ठीकठाक मिला। बता दें कि ऐतिहासिक महत्व रख्खने वाला खानसर चौंक पर भ्भीड़भाड़ अधिक रहती है और हर रोज हजारों की तादाद में वाहन यहां से निकलते हैं। यहीं चौंक सफीदों को पानीपत, असंध व जींद से जोड़ता है। शुक्र इस बात का रहा कि इतना व्यस्म्त चौंक होने के बावजूद कोई चौपहिया, दुपहिया या पैदल आदमी इसकी चपेट में नहीं आया, अन्यथा कोई भी बड़ा हादसा घटित हो सकता था। स्वागत द्वार के गिरने के कारण मुख्य मार्ग बाधित हो गया और वाहन चालकों को भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ा। घटना की सुचना सफीदों पुलिस व नगरपालिका को दी गई। सूचना पाकर पुलिस मौके पर पहुंची और जेसीबी मंगवाकर मलबे को हटवाकर मार्ग को बहाल करवाया।

खानसर चौंक पर नीचे गिरा स्वागत द्वार का ऊपरी गिरा।

घटनास्थल के आसपास के दुकानदार सन्नी, रामप्रकाश, अनुज, रामपाल व प्रदीप ने बताया कि कुछ सवारी गाड़ी गुजरने के बाद अचानक द्वार का ऊपरी हिस्सा गिर गया जिसके कारण आवाजाही बंद हो गई। उन्होंने बताया कि इस स्वागत द्वार को बने अभी कुछ ही दिन हुए हैं, उसके बावजूद यह हाल है। गनीमत यह रही कि एक सवारी गाड़ी कुछ सैकेंड पहले ही निकली थी अगर द्वार के बड़े-बड़े भारी पत्थर उस पर गिर जाते तो कोई भी बड़ी अनहोनी घटित हो सकती थी। इस पूरे घटनाक्रम में नगरपालिका की बड़ी लापरवाही सामने आई है। गौरतलब है कि सफीदों के कई मुख्य स्थानों पर नगरपालिका द्वारा लाखों रूपयों की लागत स्वागत द्वारों का निर्माण करवाया गया है। उसी श्रृंखला में खांसर चौंक पर भी स्वागत द्वार बनाया गया है जोकि रविवार शाम को भरभराकर गिर गया। पूर्व पार्षद संजय अधलखा उर्फ बिट्टा का कहना है कि यह घटना नगरपालिका की लापरवाही को दर्शाता है। नगरपालिका के निर्माण कार्यों में घटिया सामग्री का प्रयोग किया जा रहा है। सारे मामले में नगरपालिका आंखे मूंदे बैठी हैं। इस मामले में नगरपालिका प्रधान सेवाराम सैनी ने कहा कि वे इस मामले की जांच करवाएंगे।

573
Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *