स्काईलार्क समूह ने कोविड-19 से बचाव के लिए आपातकालीन वेंटिलेटर का निर्माण किया
HARYANA KHAS KHABAR SAFIDON

स्काईलार्क समूह ने कोविड-19 से बचाव के लिए आपातकालीन वेंटिलेटर का निर्माण किया

VS News India | Reporter – Sanju | Safidon : – प्रसिद्ध कारोबारी समूह स्काईलार्क हैचरीज ने करीब दस हजार रूपये से कम कीमत के वेंटिलेटर- आईएमएवी वायु तैयार किए है। आईएमएवी वायु एक भारतीय मोटराइज्ड अफोर्डेबल वेंटिलेटर है। यह एक विश्वसनीय आपातकालीन वेंटिलेटर है जो कोविड- 19 महामारी के खिलाफ लड़ाई में मददगार भूमिका निभाने की क्षमता रखता है।
स्काईलार्क के निदेशक व चिकित्सक डॉ. विकास ढुल ने कहा कि यह वेंटिलेटर पूर्ण रूप से हमारी वर्कशाॅप में निर्मित किया गया है और इसमें मोटराईज्ड तकनीक का प्रयोग किया गया है। इसके सभी पुर्जे स्थानीय बाजार से ही खरीदे गए है। इसके ज्यादातर उपकरण पोल्ट्री मशीन वाले ही है। उन्होने कहा कि सरकार व प्रशासन की हरी झंडी मिलने के बाद स्काईलार्क कंपनी एक दिन में 500 वेंटिलेटर तैयार कर सकती है। प्रदेश सरकार को पहले सौ वेंटिलेटर निःशुल्क देने का भी प्रस्ताव है। स्काईलार्क ने उपायुक्त के माध्यम से सरकार को वेटिलेटर की गुणवत्ता को मानको पर जांचने का अनुरोध किया है। सरकार के प्रशासनिक अधिकारियों ने बताया कि एक-दो दिन में मानकों पर खरा उतरते ही फाइनल कर देंगे।
डाॅ विकास ढुल ने बताया कि कोरोना के बाद देशभर में वेंटिलेटर की मांग बढ़ी है। जींद सहित कई सरकारी अस्पतालों में एक भी वेंटिलेटर नहीं है। इस चुनौती को देखते हुए कुछ दिन पहले कंपनी के संस्थापक और प्रबंध निदेशक जगबीर सिंह ने वेंटिलेटर बनाने का प्रोजेक्ट सौंपा। डाॅ. विकास ने बताया कि हमारे डाॅक्टरों और इंजीनियरों ने दिन रात मेहनत कर इस प्रोजेक्ट को तय समय से पहले ही पूरा कर लिया।
श्री मिहिर गरवरे ने बताया कि आईएमएवी भारतीय मोटराइज्ड अफोर्डेबल वेंटिलेटर है जो विशेष रूप से कोरोना वायरस महामारी से लड़ने के लिए बनाया गया है। इससे अस्पताल के कर्मचारियों को मरीज को श्वांस प्रक्रिया को सुचारू व सुगम बनाने में मदद मिलेगी। करीब डेढ़ किग्रा वजन वाला वायू वेंटिलेटर घरेलू इनवर्टर से भी चल सकता है।
इस वेंटिलेटर को स्काईलार्क समूह की रिसर्च और डेवलपमेंट टीम द्वारा विकसित किया गया है। वेंटिलेटर बनाने वाली टीम में डाॅ. विकास ढुल, डाॅ. दिनेश ढांडा, डाॅ. अनुज व डाॅ. सपना शामिल है। वेंटिलेटर का डिजाइन सरल और स्वास्थ सेवाओं के अनुकूल है। इस नवीन वेंटिलेटर की कुछ प्रमुख विशेषताएं हैं,

  1. तीन सेटलमेंट स्ट्रोक वॉल्यूम 450, 600, 800 मिलीलीटर
  2. श्वसन दर डिजिटल रूप से ठीक होने योग्य है।
  3. प्रेशर लिमिटर और एयर फिल्टर अंदर में ही निर्मित हैं।
  4. एक मास्टर कंट्रोलर 4 आईएमएवी मशीन चला सकता है।
  5. बिजली की विफलता के दौरान निर्बाध रूप से चलता है
  6. मशीनों की आसान निगरानी के लिए बड़ा इंडीकेटर है।
  7. सभी भाग रखरखाव और लुब्रीकेन्ट फ्री हैं।
  8. कॉम्पैक्ट डिजाइन इसे पोर्टेबल बनाता है।
  9. संचालित करने और स्थापित करने में आसान।

स्काईलार्क समूह के बारे में –
स्काईलार्क हैचरीज की स्थापना 1985 में श्री जगबीर सिंह ढुल और श्री जसबीर सिंह देसवाल द्वारा की गई थी। आज, स्काईलार्क समूह भारत के सबसे बड़े पोल्ट्री व् हैचरी उत्पादकों में से एक है। गुणवत्ता, उत्कृष्टता और रणनीतिक एकीकरण के प्रति एक अटूट प्रतिबद्धता के माध्यम से, हमने विभिन्न प्रकार के ऑपरेशनों का निर्माण किया है, जिनमें पैरेन्ट स्टॉक, मूल स्टॉक, हैचरी, ब्रायलर कॉन्ट्रैक्ट फार्मिंग, फीड प्रोडक्शन, पोल्ट्री प्रोसेसिंग, बड़े पैमाने पर मैकेनाइज्ड फार्मिंग और इक्विपमेंट फैब्रिकेशन शामिल हैं।

386
Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *