सफीदों की नई अनाज मंडी सचिव को ज्ञापन सौंपते हुए किसान।
Big News HARYANA SAFIDON VS NEWS INDIA

सरकार द्वारा 14 से घटाकर 12 प्रतिशत नमी की मात्रा तक ही गेहूं की खरीद करने के फैसले पर किसानों ने किया रोष प्रकट

VS News India | Reporter – Sanju | Safidon : – सरकार द्वारा 14 से घटाकर 12 प्रतिशत नमी की मात्रा तक गेहूं की खरीद करने के फैसले पर किसानों ने मार्केट कमेटी कार्यालय में रोष प्रकट किया। जिन्होंने अपनी मांगों को लेकर मंगलवार को मार्केट कमेटी सचिव को एक ज्ञापन भी सौंपा। राष्ट्रीय संयुक्त किसान मोर्चा के तत्वावधान में सफीदों क्षेत्र के किसानों ने मुख्यमंत्री मनोहर लाल के नाम का सौंपे गया है। जिसमें किसान अरूण खर्ब, इकबाल सिंह, नरेंद्रपाल सिंह, टीकाराम, अनोखा सिंह, सतबीर सिंह व राधेश्याम हाट ने कहा कि एक अपै्रल से गेहंू की खरीद शुरू कर दी जाएगी। लेकिन सरकार के सभी दावे पूरी तरह से फेल साबित हुए हैं। सीजन शुरू होने से पहले ही सरकार ने खरीद कार्य में आनाकानी का रवैया शुरू कर दिया है और अनेक प्रकार शर्तें लागू कर दी हैं। पहले गेहंू की खरीद में नमी 14 प्रतिशत पास थी, लेकिन अब सरकार ने उसे घटाकर 12 प्रतिशत कर दिया है। जिससे किसानों का गेहंू काम होगा।

जोकि किसान और किसानी पर बहुत बड़ा कुठाराघात है। उन्होंने कहा कि आढ़ती व किसान का एक अटूट रिश्ता रहा है लेकिन सरकार उसे आनलाइन के नाम पर तोडऩे का काम कर रही है। सरकार ने आनलाइन सिस्टम में किसान व आढ़ती को उलझाकर रख दिया है। फसल बेचने में किसानों व आढ़तियों को भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। उन्होंने सरकार से मांग की कि सरकार ने जो नमी की मात्रा घटाई है उसे वापिस ले, आनलाइन सिस्टम बंद किया जाए, फसल की पेमेंट सीधे किसानों के खातों की बजाए आढ़तियों के माध्यम से ही करवाई जाए, बारदाने की समस्या दूर की जाए तथा फसल के तोल में किसी भी प्रकार की कटौती नहीं की जाए।

427
Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.