आयुष विभाग के कर्मी डयूटी स्थलों पर जाकर कर्मियों को दे रहे है औषधियों के पैकेट
HARYANA JIND KHAS KHABAR VS NEWS INDIA

आयुष विभाग के कर्मी डयूटी स्थलों पर जाकर कर्मियों को दे रहे है औषधियों के पैकेट : डीसी डॉ. आदित्य दहिया

VS News India | Jind : – डीसी डॉ. आदित्य दहिया ने बताया कि कोरोना योधाओं को वायरस के संक्रमण से बचाने के लिए राज्य सरकार द्वारा इनकी रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए अभियान शुरू कर दिया है।  आयुष विभाग के कर्मियों ने जींद के डीएसपी धर्मबीर सिंह को डयूटी स्थल पर जाकर औषधियों का पैकेट देकर जिला में इस अभियान की शुरूआत की, इसके बाद दर्जनों कर्मियों को यह पैके ट दिये गये।
डीसी ने वीरवार को यह जानकारी देते हुए बताया कि इन पैकेटों में गिलोय घन वटी/संशमनी बटी, अणु तेल इत्यादि जड़ी बुटियों से तैयार की गई औषधियां है। आयुर्वेदिक डॉक्टरों का मानना है कि इस औषधियों के सेवन से मानव शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है। उन्होंने बताया कि कोरोना वायरस के फैलाव को रोकने के लिए शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता मजबूत होनी चाहिए। यह औषधियां जिले के पुलिस विभाग, नगरपरिषद, पंचायत विभाग तथा आयुष विभाग के अधिकारियों और कर्मचारियों को वितरित की जा रही है।
जिला आयुर्वेदिक अधिकारी डॉ. सुशीला रानी ने बताया कि आयुर्वेदिक चिकित्सा पद्धति सदियों पुरानी प्रमाणित चिकित्सा पद्धति हैँ इसे अपनाकर हम अपने शरीर की रोगप्रतिरोधक क्षमता बढ़ा सकते है। इस अभियान के लिए ए एम ओ डॉ. संदीप गोयल को नोडल अधिकारी बनाया गया है।
डॉ. संदीप गोयल ने बताया कि आयुष मंत्रालय भारत सरकार की ओर से कोरोना संक्रमण की रोकथाम को लेकर एडवाईजरी जारी की है जिसकी मदद से कोरोना के खिलाफ खुद को और अधिक मजबूत बना सकते है।

 कोरोना योधाओं को रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने की औषधियां देते आयुष विभाग के कर्मी

आयुष मंत्रालय की हिदायत के मुताबिक दिन भर गर्म पानी पीते रहे साथ ही घर पर रहकर कम से कम आधे घन्टे तक योग करें। हल्दी, धनिया, जीरा, लहसून का खाने में प्रयोग करें तथा च्यवनप्राश का भी सेवन करें। मधुमेह के रोगी शुगर फ्री च्यवनप्राश का सेवन करें एक या दो बार हल्दी मिला कर दुध का सेवन करें। इस अभियान में आयुष विभाग के चिकित्सा अधिकारी डॉ.सुरेखा व डॉ. रितेश, आयुर्वेदिक फार्मासिस्ट रणधीर, रमेश, कुलबीर, रेखा, राजकुमारी, कमलेश, सरोज, मिस एकता, धर्मपाल, संजय, कपित, रामफल, महेन्द्र तथा जोनी ने अपनी भागीदारी की।

447
Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *