गांव कारखाना में कीच्चड़ से भारी गली से गुजरते हुए ग्रामीण।
Big News HARYANA SAFIDON VS NEWS INDIA

15 साल से कीचडय़ुक्त गली से गुजरने को मजबूर गांव कारखाना के ग्रामीण

VS News India | Reporter – Sanju | Safidon : – उपमंडल गांव कारखाना के ग्रामीण पिछले 15 सालों से कीचडय़ुक्त गली से गुजरने को मजबूर है। गांव की मंदिर वाली मुख्य गली में हर वक्त किच्चड़ की भरी रहती है। लेकिन ग्राम पंचायत इस गली की तरफ कोई ध्यान नहीं दे रही है। इस कारण बारिश होने पर तो यह दो-दो फुट गंदे पानी खड़ा हो जाता है। जिससे यहां के लोगों का जीना दूभर हो गया है। गंदे पानी से भरी इस गली से ग्रामीण मंदिर, खेत व अपने घर के काम के लिए घर से निकलने में काफी परेशान होते है। ग्रामीण ने कहा कि यह गली गांव की मुख्य गली है। जोकि पिछले करीब 15 सालों से किच्चड़ से भारी पड़ी है। इसकी के पास गांव गंदे पानी का तालाब भी है, जिसका पानी ऑवरफलो होकर इस गली में आकर खड़ा हो जाता है। बारिश आने पर करीब 150परिवारों को तो घर से निक ला मुश्किल हो जाता है। गली में कीचड़ की वजह से कई बार गिर कर बच्चे घायल हो चुके है। 

गांव कारखाना में कीच्चड़ से भारी गली से गुजरते हुए ग्रामीण।

सरपंच नहीं दे रहा ध्यान, तालाब पर कब्जा होने के कारण नहीं बन पा रही गली:-
ग्रामीण राममेहर,हवा सिंह, सत्यवान फौजी, कृष्ण जागड़ा,रामफल, ईश्वर सिंह, सुनील, विक्रम एवं महिला रोशनी देवी, कमला, सुनीता, मेसरीआदि ने कहा कि गांव के तालाब पर एक पंच के परिवार द्वारा अवैध रूप से कब्जा किया हुआ है। जिस कारण यह नहीं बन पा रही है। अब गांव के सरपंच द्वारा गली का निर्माण करने से पहले नाले का निर्माण शुरू किया गया था। जिसमें गली 22 फूट की है, लेकिन कब्जाधारी पंच के परिवार वाले कब्जा छोडऩे के लिए तैयार नहीं है। ऐसे में सरपंच भी पंच के साथ मिलकर गली का निर्माण कार्य काफी समय से रोके हुए है। ग्रामीणों ने बताया कि वह इस समस्या को लेकर ग्राम पंचायत से लेकर बीडीपीओ कीर्ति सिरोहीवाल से मिल चुके है। लेकिन अधिकारियों के कार्यालय के चक्कर काटने के बाद भी कोई समाधान नहीं हुआ। गांव का सरपंच उदय सिंह तो ना के बराबर सरपंच है, क्योंकि वह काफ समय से बीमार है,  वह नाले व गली के निर्माण को लेकर के सरपंच के लड़के विक्रम से भी कई बार मिल चुके है। लेकिन सरपंच भी पंच कब्जे को छुटवानें के लिए तैयार नहीं है। ग्राम सभा में भी इस गली को बनाने की मांग कर चूके हैं, लेकिन उनकी सुनवाई नहीं हो रही। 

पानी खड़ा रहने सेे मकानोंं में आई दरार:-
गली में पानी खड़ा रहने के कारण कई मकानों की दीवारों में दरारें आ गई। जिससे मकान मालिक को भी नुकसान हो रहा है। उन्हें बार-बार मकान की मरम्मत करनी पड़ रही है। क्योंकि तालाब पर कब्जा होने के कारण गंदे पानी आवरफॉलो होकर गली में इकट्ठा हो जाता है। इसलिए गांव में बीमारियां फैल रही है। ग्रामीणों ने प्रशासन से मांग की कि हमारी समस्या का समाधान जल्द से जल्द करवाया जाऐं। 

इस मामले में जब गांव के कार्यवाहक सरपंच विक्रम से बात की गई तो उन्होंने कहा कि गली का निर्माण कार्य शुरू कर दिया गया है। ग्राम मांग कर रहे है की जब गली 22 फूट की है, तो उसे 22 फूट की बनाया जाए। गली में कुछ लोगों के कब्जे है। जिसकी निशानदेही करवाई गई थी। इसमें पंच का कोई कब्जा नहीं है, उसके देवर का कुछ कब्जा आया है। कुछ ग्रामीण विकास कार्यांे में रूकावट डालने का काम करते है। करीब डेढ़ साल बाद ग्राम पंचायत का कोर्म पूरा होने पर विकास कार्य शुरू किए गए थे। लेकिन ग्रामीण हर कार्य में रुकावट डालने का काम करते है। उन्होंने अधिकारियों के नोटिस में मामला डाल दिया है और कब्जे को लेकर कोर्ट में केस किया गया है। जल्द नाले के निर्माण को कब्जा हटाकर शुरू किया जाएगा। 

871
Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *