आईपीएस अजीत सिंह शेखावत का अभिंनदन करते हुए आयोजक संस्था के पदाधिकारी।
HARYANA SAFIDON VS NEWS INDIA

डा. बीआर अंबेडकर के विचारों को अंगीकार करने की आवश्यकता: अजीत सिंह शेखावत

VS News India | Reporter – Sanju | Safidon : – उपमंडल के छाप्पर गांव स्थित आश्रम संविधान निर्माता डा. भीमराव अंबेडकर परिनिर्वाण मनाया गया। इस कार्यक्रम मेंबतौर मुख्यातिथि आईपीएस अजीत सिंह शेखावत ने शिरकत की। इस मौके पर डा. भीमराव अंबेडकर प्रतीमा पर पुष्पांजली अर्पित की गई। आईपीएस अजीत सिंह शेखावत ने कहा कि 20वीं शताब्दी के श्रेष्ठ चिंतक, ओजस्वी लेखक, यशस्वी वक्ता, स्वतंत्र भारत के प्रथम कानून मंत्री तथा भारतीय संविधान के प्रमुख निर्माणकर्ता के रूप में डा. भीमराव अंबेडकर का नाम सदैव याद किया जाएगा। हमें उनके विचारों और आदर्शों का सम्मान करते हुए जाति-पाति से ऊपर उठकर लोकतांत्रिक व्यवस्था के अनुरूप चलने कि जरूरत है। डा. भीव राव अंबेडकर बेहद दूरदर्शी, सामाजिक क्रांतिकारी, कानूनविद और मानवीय अधिकारों के बड़े समर्थक थे। संविधान की रचना में उनकी प्रमुख भूमिका को आज भी बेहद सम्मान से याद किया जाता है। हमें आज के इस पावन दिवस पर बाबा साहेब के समान व्यवहार और न्यायपूर्ण समाज की रचना के सपने को पूरा करने का प्रण लेना चाहिए। इस मौके पर कुरुक्षेत्र विश्वविद्यालय के डीएएसएफआई अध्यक्ष पिन्टू सिंगला विशेष रूप से उपस्थित रहें।

492
Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *