अंटा गांव ने सिंघु बॉर्डर भेजी खाद्य सामग्री
HARYANA SAFIDON VS NEWS INDIA

अंटा गांव ने सिंघु बॉर्डर भेजी खाद्य सामग्री

VS News India |Reporter – Sanju | Safidon : – 9 दिसंबर 2020। उपमंडल के अंटा गांव के किसानों ने कृषि अध्यादेशों के खिलाफ सिंघु बार्डर पर आंदोलनरत किसानों के लिए बुधवार को राहत के तौर पर खाद्य सामग्री पहुंचाई। राशन से भरे ट्रैक्टर-ट्रालियों को रवाना करते समय अंटा गांव के किसान जगत सिंह ने कहा कि कृषि अध्यादेश पूरी तरह गैरजरूरी हैं। पूंजीपतियों के दबाव में सरकार इन्हें किसानों पर जबरदस्ती थोप रही है।

इन कानूनों को रद्द कर सरकार को किसान आयोग का गठन करना चाहिए। उन्होने कहा कि मोदी सरकार संसद का विशेष सत्र बुलाकर एमएसपी पर भी कानून बनाए। कानून में कोई भी एजेंसी या व्यक्ति एमएसपी से कम दामों में किसानों से उपज खरीद करता है तो उसे सजा देने का प्रावधान हो। फसल के भाव में कोई उतार-चढ़ाव हो तो उसकी भरपाई केंद्र या राज्य सरकार करे। अंटा गांव का पूर्ण समर्थन किसानों के साथ है। भारत के संविधान ने सभी को अपनी आवाज उठाने व आंदोलन चलाने का हक दिया है। किसान भी अपनी समस्याओं को सरकार के समक्ष शांतिपूर्ण ढंग से रखकर अपनी मांगें पूरी कराना चाहते हैं। इस मौके पर विनोद कुमार, राज देशवाल, सुभाष, तेलूराम देशवाल, कृृष्ण देशवाल, प्रदीप, कुलबीर, मोहित, अभिशेक इत्यादि मौजूद रहे।

312
Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.