Big News Crime Delhi VS NEWS INDIA

इंस्टाग्राम के ग्रुप में की जा रही थी अश्लील चैट

दिल्ली महिला आयोग ने बॉयज लॉकर रूम मामले में दिल्ली पुलिस और इंस्टाग्राम को 5 मई को नोटिस जारी किया था, जिसके जवाब में दोनों ने मामले में अपना पक्ष आयोग के समक्ष रखा है | आयोग को दी गई जानकारी में पुलिस ने बताया है कि इस मामले में भारतीय दंड संहिता (आईपीसी) की धारा 456, 469, 471 और 509 के तहत केस दर्ज किया गया है | आईटी एक्ट की धारा 66 और 67ए के तहत भी केस दर्ज कर जांच की जा रही है |पुलिस ने इस मामले से जुड़े आरोपियों को गिरफ्त में लेकर लंबी पूछताछ भी की है | हालांकि पुलिस ने एफआईआर की कॉपी आयोग को नहीं दी है, जिसके चलते उन्हें आयोग की तरफ से नया नोटिस जारी किया गया है |

इंस्टाग्राम से मिले जवाब के मुताबिक उन्होंने मामले से जुड़ी जानकारी पुलिस को मुहैया करवाई है, जिसके आधार पर पुलिस आगे की कार्रवाई कर रही है | इंस्टाग्राम ने अपने जवाब में कम्पनी पॉलिसी का भी जिक्र किया है | इंस्टाग्राम ने पूरे मामले में जांच में पूरी सहायता का आश्वासन दिया है. दिल्ली महिला आयोग ने दोबारा इंस्टाग्राम को नोटिस जारी कर उनकी ऐसी शिकायतों से निपटने के प्रक्रिया की जानकारी मांगी है |

बॉयज लॉकर रूम का केस सामने आने के बाद केस से जुड़ी एक नाबालिग लड़की ने दिल्ली महिला आयोग से जान से मारने और एसिड अटैक की धमकी की शिकायत दी है | आयोग को दी गई शिकायत में ऐसे धमकी भरे मेसेज के स्क्रीनशॉट भी दिए गए हैं | दिल्ली महिला आयोग ने धमकी देने वालों पर भी कार्यवाई करने के लिए दिल्ली पुलिस और इंस्टाग्राम को नोटिस जारी कर कार्रवाई करने का निर्देश दिया है |दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालिवाल को इस मामले में आवाज उठाने पर शुक्रवार को उनके ट्विटर हैंडल पर जान से मारने की धमकी देने का भी मामला सामने आया था, जिसकी शिकायत सबूत सहित उन्होंने दिल्ली पुलिस के साइबर सेल को दी थी | अभी तक पुलिस ने इस केस में क्या एक्शन लिया है इसकी जानकारी नहीं मिल सकी है |

दोषियों के खिलाफ लिया जाए कड़ा एक्शन

स्वाति मालिवाल ने कहा, “पुलिस ने लॉकर रूम मामले में हमारे नोटिस के बाद तुरंत कार्रवाई की है. जिन लड़कियों ने मामले को उजागर किया था उनको मारने, रेप एवं ऐसिड अटैक की जो धमकी मिल रही हैं वो निंदनीय है. पुलिस को उसपे भी तुरंत ऐक्शन लेना चाहिए. इन्स्टाग्राम को बताना चाहिए की वो क्या प्रक्रिया अपनाते हैं ऐसी कम्प्लेंट से निपटने के लिए. क्या वो स्वतः संज्ञान लेके पुलिस को रिपोर्ट करते हैं या पुलिस का इंतजार करते हैं? ये सिर्फ किसी एक बॉयज लॉकर रूम की बात नही है बल्कि ऑनलाइन सेक्सुअल हरसमेंट का बड़ा मुद्दा है जिसके खिलाफ ढंग से कार्रवाई होनी ही चाहिए!”

582
Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.