अध्यापकों को उत्तर पुस्तिकाओं के बंडल सौंपते हुए अधिकारी।
HARYANA KHAS KHABAR SAFIDON

कोरोना महामारी को लेकर शिक्षा विभाग ने लिया फैसला

VS News India | Reporter – Sanju | Safidon : – कोरोना महामारी के चलते हर प्रकार की व्यवस्थाएं प्रभावित हुई है और उससे शिक्षा विभाग भी अछूता नहीं है। कोविड-19 के कारण परीक्षाओं के साथ-साथ उत्तर पुस्तिकाओं के मूल्यांकन का कार्य भी प्रभावित हुआ है। पहले अध्यापक मूल्यांकन केंद्र पर बैठकर ही उत्तर पुस्तिकाएं जांचते थे लेकिन अब उन्हे नई व्यवस्था के तहत घर पर रहकर ही पुस्तिकाएं जांचनी होगी। गौरतलब है कि मार्च माह में हरियाणा विद्यालय शिक्षा बोर्ड की 10वीं की परीक्षाएं चल रही थी। देश में कोरोना के अधिक प्रसार के कारण विज्ञान विषय का अंतिम पेपर भी स्थगित करना पड़ा था। बता दें कि जिला जींद में नरवाना, जींद व सफीदों में मूल्यांकन सैंटर बनाए गए हैं। इन्ही 3 केंद्रों पर पेपरों के मूल्यांकन का कार्य होता था लेकिन कोरोना के चलते इस बार ऐसा नहीं हो पाया। महामारी के कारण सरकार और शिक्षा विभाग ने अध्यापकों को घर पर रहकर ही उत्तर पुस्तिकाओं की चेकिंग करने के आदेश दिए गए। सरकार के आदेशों के मद्देनजर शनिवार को नगर के राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय (लड़के) में बने मूल्यांकन सैंटर में इस ड्यूटी में लगे अध्यापक पहुंचे और नोडल अधिकारी डा. भारतभूषण व इंचार्ज पवन कुमार ने इन अध्यापकों को उत्तर पुस्तिकाओं के 80 बंडल सौंपे। खंड शिक्षा अधिकारी डा. नरेश वर्मा ने बताया कि मूल्यांकन के लिए अध्यापकों को 80 बंडल दे दिए गए है। इन बंडलों में हिंदी, इंग्लिश, सामाजिक विज्ञान व गणित के पेपर हैं। कोरोना को लेकर विज्ञान का पेपर नहीं हो पाया था। यह पेपर अब होगा या नहीं तथा किस प्रकार से परीक्षा परिणाम जारी होगा, यह फैसला शिक्षा विभाग को लेना है। उन्होंने बताया कि जो अध्यापक उत्तर पुस्तिकाओं के बंडल लेकर गए हैं, उन्हे आगामी 10 दिनों के भीतर इनकों जांचकर वापिस इसी केंद्र पर आकर जमा करवाने होंगे। उन्होंने बताया कि अध्यापकों को आने व जाने में कोई दिक्कत ना हो इसके लिए शिक्षा विभाग द्वारा प्रशासनिक अधिकारियों को पत्र जारी किया गया है।

346
Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *