HARYANA SAFIDON VS NEWS INDIA

सफीदों में कोविड टीकाकरण बढ़ाए जाने के लिए एसडीएम आईएएस डा. आनंद कुमार शर्मा ने अपने कार्यालय में ली बैठक

VS News India | Sanjay Kumar | Safidon : – उपमंडल सफीदों में कोविड टीकाकरण बढ़ाए जाने के लिए एसडीएम आईएएस डा. आनंद कुमार शर्मा ने अपने कार्यालय में बैठक ली। बैठक में सफीदों एवं पिल्लूखेड़ा खंड की 12 कलस्टर टीमों सदस्यों ने भाग लिया। इसके अलावा बैठक में स्वास्थ्य विभाग, पंचायत विभाग, महिला बाल विकास विभाग एवं शिक्षा विभाग के कर्मचारियों ने भी भाग लिया। एसडीएम डा. आनंद कुमार शर्मा ने कोविड टीकाकरण में बेहतरीन कार्य करने वाले विभागों की पीठ थपथपाते हुए कहा कि कर्मचारियों के प्रयासों से ही कोविड टीकाकरण को बढ़ावा मिला है लेकिन इन प्रयासों को हमें तब तक जारी रखना है जब तक पुरे सफीदों को वैक्सीनेट नहीं किया जाता। उन्होंने कहा कि टीकाकरण को बढ़ावा देने के लिए क्षेत्र की समाजसेवी संस्थाएं, सरपंचों, प्रधानों व मौजिज लोगों से संपर्क करके गांव के लोगों को टीकाकरण के लिए ज्यादा से ज्यादा जागरूक करें।

टीकाकरण के प्रचार के लिए गांव में बने मंदिरों, गुरुद्वारों व अन्य धार्मिक स्थलों में लगे लाउड स्पीकर का इस्तेमाल करें। यह सुनिश्चित करें कि सभी ग्रामीण वैक्सीन लगवाने से अछूते ना रहे। सीडीपीओ व बीईओ द्वारा बच्चों के साथ-साथ उनके माता-पिता को अवश्य बुलाएं और उनको कोविड टीकाकरण के प्रति जागरूक करें। खंड के हर कलस्टर की टीम को सप्ताह के अंत में अपनी रिपोर्ट तैयार करके व्हाट्सएप के माध्यम से भेजना सुनिश्चित करना है। उन्होंने कहा कि जिन गांवों में अभी भी कोविड टीकाकरण के प्रति भ्रांतियां फैली हुई है। वहां तीन-चार बार जाकर लोगों को समझाएं और टीकाकरण कैंप लगवाएं। अगर किसी अधिकारी कर्मचारी को किसी गांव में कैंप लगाने या अन्य कोई समस्या सामने आती है तुरंत उनसे संपर्क करें। उन्होंने सभी विभाग के अधिकारियों से कहा कि कोविड टीकाकरण में बेहतर कार्य किया उनकी सूची उनके कार्यालय में 12 अगस्त तक भेजना सुनिश्चित करें। कोविड टीकाकरण में बेहतरीन कार्य करने वाले ग्रामीणों व कर्मचारियों को स्वतंत्रता दिवस पर सम्मानित किया जाएगा।

उन्होंने जनता से अपील की कि वे किसी अफवाह या भ्रम में नहीं पड़ें। कोरोना का टीका पूरी तरह सुरक्षित है। उन्होंने कहा कि भले ही कोरोना का कहर कम हुआ है लेकिन हमें इसे हलके में नहीं लेना है। महामारी का खतरा अभी टला नहीं है और कोरोना की संभावित तीसरी लहर खतरा अभी भी बरकरार है। बैठक में मुख्य रूप से डा. संदीप लांबा, डॉ अरुण, मीनाक्षी, संदीप, अनिल कुमार, हरिओम, कुलदीप सिंह व सुमित कुमार मौजूद थे।

426
Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.