HARYANA JIND VS NEWS INDIA

 फोटो खिंचवा कर वापिस जाने की बजाय किसानों के साथ बैठे – अशोक तंवर

VS News India | Jind |:- पूर्व सांसद डा. अशोक तंवर ने कहा कि विपक्ष के सांसद व विधायक अपने पदों से इस्तीफा देकर दिल्ली में किसानों के धरने पर जाएं और वहां से फोटो खिंचवाकर वापिस ना आएं तथा किसानों के साथ वहीं पर लगातार धरने पर बैठें। तभी उनका समर्थन देना सार्थक सबित होगा। डा. अशोक तंवर गुरूवार को यहां इंपलाइज कालोनी में आयोजित एक सामाजिक समरोह में शिरक्त करने के दौरान पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे। उन्होंने कहा कि दावा तो सभी किसानों का साथ देने और इस्तीफा देने का कर रहे हैं, लेकिन अभी तक इस्तीफा किसी ने नहीं दिया है।  डा. अशोक तंवर ने कहा कि इससे किसानों के आंदोलन को कोई फायदा नहीं हो रहा, बल्कि बीजेपी को ही यह कहने का मौका मिल रहा है कि यह आंदोलन विपक्ष की शह पर चल रहा है। लेकिन वास्तविक सच्चाई यह है कि आंदोलन किसानों का अपना आंदोलन है, जो अब जन आंदोलन बन चुका है। इस आंदोलन में मजदूर और कर्मचारी भी किसानों का बढ़चढ़ साथ दे रहे हैं। डा. अशोक तंवर ने कहा कि सत्तासीन भाजपा, पूर्व में सत्ता में रहे विपक्षी नेता और बड़े पूंजीपूति आपस में मिले हुए हैं। जिसके कारण ही राज्यसभा में तीनों नये कृषि बिल पारित हुए। यदि राज्यसभा में विपक्ष सांसद सचेत रहते तो आज ना तो तीन नये कृषि कानून बनते और ना ही किसानों को इतना बड़ा आंदोलन खड़ा करना पड़ता है। उन्होंने कहा कि आज इस देश का धरतीपुत्र अपनी खेती व किसानी को बचाने के लिए कड़ाके की ठंड में खुले आसमान तले जमीन पर संघष कर रहा है, कुछ देर भले ही हो सकती है, लेकिन उनका संघर्ष कामयाब जरूर होगा।

उन्होंने कहा कि किसान आंदोलन के बाद प्रदेश व देश के लोगों को उनकी भावनाओं के अनुसार तीसर विकल्प मिलेगा। पूर्व सीएम एवं नेता प्रतिपक्ष भूपेंद्र सिंह हुड्डा द्वारा राज्यपाल को पत्र लिखकर विशेष सत्र बुलाने की मांग पर अपनी टिप्पणी करते हुए कहा कि ये सब नूरा कुश्ती चल रही है। सब मिले हुए हैं, ये किसानों, मजदूरों का भला करने वाले नहीं है, सब बड़े पूंजीपतियों से मिले हुए हैं। लेकिन लोगों को भाजपा और  कांग्रेस का चेहरा अच्छी तरह से पहचान में आ चुका है। इस दौरान समाज के लोगों से रूबरू होते हुए पूर्व सांसद डा. अशोक तंवर ने कहा कि हर गरीब,पिछड़ा व कमजोर वर्ग के हकों की लड़ाई लड़ रहे हैं। मांगने से भीख तो मिल सकती है, लेकिन अधिकार नहीं, इसलिएअपनेअधिकारियों को लेकर सभी को एकजुट होना होगा और देश की पूंजीपति व भ्रष्टाचार में संलिप्त ताकतों को धराशाही करना होगा। अन्यथा आने वाले पीढियां हमें भी माफ नहीं करेंगी। डा.अशोक तंवर ने आज जींद शहर के इलावा जिले के गांव मनोहरपुर, भम्भेवा, मालसी खेड़ा के अलावा अन्य जगहो पर आयोजित कार्यक्रमों में भी शिरक्त की। इस दौरान ग्रामीणों ने उनका फूलमालाओं व पगडियों से जोरदार स्वागत किया गया।

250
Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *