Crime HARYANA KARNAL VS NEWS INDIA

Jash Murder Case – पुलिस की जांच पर परिजनों को संदेह, CBI से जांच कराने की मांग

VS News India | Karnal : – जश मर्डर केस में पुलिस द्वारा हत्या का आरोप अंजलि पर साबित करने के बाद परिजनों और ग्रामीणों का पुलिस से विश्वास उठ गया है. परिजनों ने मुख्यमंत्री मनोहर लाल व गृह मंत्री अनिल विज से सीबीआई जांच की मांग की है. साथ ही करनाल पुलिस के खिलाफ 14 अप्रैल को करनाल शहर में आंदोलन की तैयारी की है. अब देखने वाली बात यह है कि पुलिस इस मामले में क्या नया मोड़ लाती है.

जश के चाचा अमन ने बताया कि अब हमें प्रशासन पर यकीन नहीं है, जो बात ऊपर के अधिकारी कह रहे हैं. वह नीचे वाले अधिकारियों से मेल नहीं खा रही. ऊपर वालों पर विश्वास करें या नीचे वालों पर विश्वास करें, रही बात अंजलि को मेंटल कहने की तो अंजलि कि कहीं भी कोई दवा दिमाग की नहीं चल रही. कोई इलाज नहीं चल रहा. मेंटल लेडीज़ अपने घर को नहीं चला सकती जबकि अंजलि अपने घर को चला रही है. आईलेट्स में सात बैंड लिए हैं. वह विदेश जाने की तैयारी कर रहे थे.

यह बातें हमारी समझ से बाहर है. हम यह पूछना चाह रहे हैं कि अंजलि ने ऐसा क्यों किया. पुलिस के पास भी अब तक इस बात का कोई जवाब नहीं है कि अंजलि ने ऐसा क्यों किया. हमें प्रशासन की बात पर संतुष्टि नहीं है. हमें बताया था कि 95 परसेंट केस हल हो गया और पांच परसेंट में पूरा केस बदल दिया. पहले 4 दिन की जांच में कुछ और बातें थी. 2 दिन की जांच में कुछ और बातें बनी. आगे के 2 दिनों में कुछ और बातें बनेंगी. शुरुआत के 4 दिनों में सारे सबूत राजेश के घर से मिल रहे थे. अब 2 दिन में सारे सबूत लवली के घर से मिल रहे हैं. प्रशासन कर क्या रहा है हमारी समझ से बाहर है.

उन्होंने कहा कि जब राजेश के घर से शव मिला तो उन्होंने फेंकना थोड़ा था. उन्होंने तो शोर मचाना था. वह साफ नहीं थे इसलिए उन्होंने फेंका. हम तो 14 अप्रैल को करनाल में इकट्ठा होंगे. इसके लिए मेरी जनता  से अपील है कि वह 14 अप्रैल को सेक्टर 12 के द्वारा पार्क में पहुंचे. हम प्रदेश के मुख्यमंत्री और गृह मंत्री अनिल विज से मांग करते हैं कि वह इस मामले की सीबीआई से जांच करवाये.

182
Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.