VS News India Search Thumbnail
HARYANA JIND VS NEWS INDIA

दिव्यांगजनों ने लगवाई कोरोना से बचाव की वैक्सीन

VS News India | Jind :- कोरोना वैक्सीनेशन अभियान के तहत सोमवार को जिला रैडक्रॉस सोसायटी भवन में सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग, हरियाणा व दर्पण कम्युनिकेशन सोसायटी के संयुक्त तत्वावधान में दिव्यांगजनों के लिए विशेष वैक्सीनेशन कैंप लगाया गया। इस शिविर में दिव्यांगोंं ने बढ़-चढक़र वैक्सीन की डोज लगवाई । इस कैंप का शुभारंभ जिला समाज कल्याण अधिकारी सरोज देवी और रैडक्रॉस सोसायटी सचिव राजकपूर सूरा ने किया। मुख्य चिकित्सा अधिकारी की टीम ने लोगों को वैक्सीनेशन करवाने और उसके फायदों के बारे में पूरी जानकारी दी। कैंप के आयोजन में जिला रैडक्रॉस सोसायटी का पूर्ण सहयोग रहा माज कल्याण अधिकारी सरोज देवी ने कहा कि कोरोना के बढ़ते प्रकोप से बचने के लिए वैक्सीनेशन बहुत महत्वपूर्ण है। इसलिए सभी वर्ग के लोगों को आगे आकर वैक्सीन लगवानी चाहिए। वैक्सीन लगवाने से हम स्वयं के साथ अपने परिवार की सुरक्षा भी सुनिश्चित करते हैं। उन्होंने कहा कि कोरोना संक्रमण का दिव्यांगजनों के लिए बहुत ज्यादा खतरा है।

Bajinder Saini EA3

इसलिए दिव्यांगजनों को वैक्सीन लगवाने के लिए यह कैंप लगाया गया है। वैक्सीन लगने से उन्हें कोरोना से बचाव का सुरक्षा कवच मिल गया है। दिव्यांगों की सुरक्षा व पुनर्वांस के लिए भविष्य में भी ऐसे आयोजन किए जाएंगे। रैडक्रॉस सोसायटी सचिव राजकपूर सूरा ने कहा कि हमें अपने परिवार के साथ साथियों, पड़ोसियों और रिश्तेदारों को भी वैक्सीनेशन के लिए प्रेरित करना चाहिए। क्योंकि कोरोना से लडऩे में जहां नियमों की पालना करना जरूरी है, वहीं वैक्सीन लगवानी भी उतनी ही जरूरी है। दर्पण संस्था के अध्यक्ष भगवान राणा व सदस्यों ने कैंप के सफल आयोजन के लिए जिला समाज कल्याण अधिकारी सरोज देवी, अन्वेषक सत्यवान दांगी और जिला रैडक्रॉस सोसायटी सचिव राजकपूर सूरा, डॉ. दिनेश  आदि का आभार जताया। वैक्सीन लगवाने वाले सभी लोगों से आह्वान किया कि वे दूसरे लोगों को भी वैक्सीन लगवाने के लिए प्रेरित करें।इस मौके पर जिला रैडक्रॉस सोसायटी से डॉ. दिनेश, एम ए जे सिद्दकी, बबीता, दर्पण संस्था के कार्यकारिणी सदस्य डॉ. राजेश्वर, राकेश कुमार, अर्चना, विपुल, जयपाल सिंह, जगदीश आदि उपस्थित रहे।

Singhs Computer Education Assandh Ad
105
Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.