पिछले दस दिनों में सफीदों में हुई 5 की मौत
Big News HARYANA SAFIDON Sansani VS NEWS INDIA

कोरोना पॉजिटिव गांव मलार में पूर्व सरपंच व रोझला में पूर्व फौजी की मौत, पिछले दस दिनों में सफीदों में हुई 5 की मौत

VS News India | Reporter – Sanju | Safidon : – सफीदों में दिन-प्रतिदिन कोरोना संक्रमित की संख्या के साथ-साथ मौतों का आंकड़ा भी बढ़ता जा रहा है। कोरोना संक्रमित सफीदों गौशाला रोड निवासी सतबीर 45 की सोमवार देर सायं मौत हो गई। जोकि 13 सितंबर को जींद अस्तपाल में भर्ती हुए थे। जिसने जींद अस्पताल में अपना दम तोड़ दिया है। साथ ही कोरोना पॉजिटिव गांव मलार निवासी धर्मपाल (55)की गत रात्रि मौत हो गई। जिसका संस्कार रोहतक  की टीम द्वारा सोमवार को किया गया है। धर्मपाल 6 सितंबर को कोरोना पॉजिटिव पाए गए थे। जिसका इलाज रोहतक पीजीआई में चल रहा है था। जिसकी तबीयत खराब होने पर उसे गुरुग्राम ले जाया जा रहा था, उसने रास्ते में ही दम तोड़ दिया। धर्मपाल गांव के पूर्व सरपंच रहे है। जोकि सफीदों में बिल्डिंग मैट्रिरियल की दुकान चलाते थे। गांव मलार में कोरोना संक्रमित की मौत के बाद ग्रामीणों में खौफ है। गांव के सरपंच प्रतिनिधि राजकुमार उर्फ सोनू के अनुसार गांव में फिलहाल करीब 25 केस कोरोना पॉजिटिव चल रहे है। जिनमें गांव का चौकीदार भी शामिल है। इसलिए उन्होंने सभी एरिया मेें मिले कोरोना संक्रमित को देखते हुए होम क्वारटाइन करवाया हुआ है। साथ ही गांव मलार के पास के गांव रोझला के कोरोना संक्रमित पूर्व फौजी रणधीर 65 की भी मौत हो गई है। जिसका संस्कार सोमवार को दिल्ली में संस्कार किया गया है। रणधीर दस सितंबर को कोरोना पॉजिटिव संक्रमित मिले थे। जिसके उसका लड़का जोकि दिल्ली पुलिस में है, वह अपने साथ ले गया था, जहां पर दिल्ली के आर्मी अस्पताल में जांच करवाई थी। जिसकी इलाज के दौरान मौत हो गई है। अगर बात की जाए तो रणधीर के बड़े भाई होशियार सिंह की भी एक सप्ताह पहले बीमार से मौत हो गई थी। ऐसे में पूरे परिवार में मातम पसरा हुआ है।

5 सितंबर को भी हुई थी लाइन मैन की मौत
अगर कोरोना संक्रमित मौतों पर नजर डाली जाए तो 5 सितंबर को सफीदों खंड के गांव निम्नाबाद निवासी बिजली निगम के कर्मचारी यादविंद्र (40) भी मौत हो गई थी। यादविंदर करनाल के असंध बिजली निगम में बतौर लाइनमैन कार्य थे। जोकि पिछले कई दिनों से बीमार चल रहा था और
वह सफीदों के एक निजी अस्पताल में अपना इलाज करवा रहा था। इलाज के दौरान उसकी तबीयत अत्यधिक खराब हुई तो उसे पानीपत रेफर कर दिया गया, लेकिन रास्ते में उसने मौत हो गई थी। मृतक लाइनमैन यादविंदर का 6 सितंबर को सफीदों के नागरिक अस्पताल में एंटीजिन किट के द्वारा कोरोना जांच की गई तो वह कोरोना पॉजिटिव पाए गए थे। जिसका बीडीपीओ कार्यालय की टीम द्वारा संस्कार किया गया था। वहीं इससे दो दिन पहले गांव खेड़ा खेमावती के एक बुजुर्ग की भी मौत हो गई थी। वह बुजुर्ग कई बीमारियों से ग्रस्त थे, पानीपत के एक निजी अस्पताल में दाखिल थे।  इलाज के दौरान उनका कोरोना टेस्ट किया गया तो कोरोना पॉजिटिव मिले थे। कोरोना से चार मौत के बाद सफीदों क्षेत्र के लोगों को नियम बरतने की जरूरत है, ताकि उनका बचाओ हो सकें।

1656
Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.