सरकार के खिलाफ प्रदर्शन करते हुए बैंक कर्मचारी।
Big News HARYANA SAFIDON VS NEWS INDIA

बैंक कर्मियों की हड़ताल से दूसरे दिन भी उपभोक्ताओं को करना पड़ा भारी दिक्कतों का सामना

VS News India | Reporter – Sanju | Safidon : – निजीकरण के विरोध में सरकारी बैंकों की हड़ताल दूसरे दिन भी जारी रही और बैंकों के बाहर ताले लटके नजर आए। बैंकों की हड़ताल के कारण उपभोक्ताओं को भारी समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है। हालांकि एटीएम खुले हुए थे, लेकिन दो दिन की हड़ताल के चलते वे भी खाली होते नजर आए। हड़ताल के कारण जमा और निकासी, चेक क्लीयरेंस और 31 मार्च नजदीक होने से व्यापारी वर्ग को सबसे ज्यादा असुविधा का सामना करना पड़ा तथा ख्करोड़ों रुपए का कारोबार प्रभावित हुआ। केनरा बैंक स्टॉफ फेडरेशन के सहसचिव सुरजीत सिंह ने कहा कि अगर सरकारी बैंकों का इसी प्रकार निजीकरण होता रहा तो लोगों को सरकारी स्कीमों का लाभ सही प्रकार से नहीं मिल पाएगा। बैंकों का निजीकरण व बैंकों का बिकना बंद होना चाहिए अन्यथा इसके दूरगामी परिणाम बहुत कष्टकारी सिद्ध हो सकते हैं। इसके अलावा अन्य बैंकों के कर्मचारियों का कहना कि बैंकों के निजीकरण से बेरोजगारी बढ़ेगी और बड़ी संख्या में कर्मचारियों को अपनी नौकरी से हाथ धोना पड़ेगा। कर्मचारियों ने केंद्र सरकार को चेतावनी दी है कि अगर सरकार हमारी मांगे नहीं मानी गई तो कर्मचारी अनिश्चितकालीन हड़ताल पर जाने को मजबूर होंगे।

359
Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.