HARYANA SAFIDON VS NEWS INDIA

सफीदों नागरिक अस्पताल परिसर में फैला कोरोना

VS News India | Sanju | Safidon: – कोरोना ने सफीदों क्षेत्र में फिर से दस्तक दे दी है। क्षेत्रभर में काफी लोग कोरोना पॉजीटिव आ गए है। हालात यह है कि कोरोना ने नागरिक अस्पताल कैंपस को भी अपनी जद में ले लिया है। अस्पताल परिसर में कोरोना पॉजीटिव मिलने के बाद लोगों में हडकंप है। मिली जानकारी के अनुसार अस्पताल परिसर में अब कुल 5 लोग कोरोना पॉजीटिव हैं। इनमें एक स्टाफ नर्स, स्टाफ नर्स का पति, उसकी सास के अलावा एक एमपीएचडब्ल्यू व अस्पताल के ड्राईवर का बच्चा है। इन लोगों के कोरोना पॉजीटिव आने के बाद अस्पताल प्रशासन भी सकते में है। रिपोर्ट आने के बाद अस्पताल प्रशासन ने पांख्चों लोगों को उनके क्वार्टरों में क्वारंटाईन कर दिया है और उनका वहीं पर इलाज चल रहा है। वहीं मिली जानकारी के अनुसार वीरवार को 8 लोगों की कोरोना रिपोर्ट पॉजीटिव आई है। जिसमें 4 लोगों सफीदों तथा 4 लोग गांव खेड़ाखेमावती, पाजू व सिंघाना से हैं। वहीं सफीदों क्षेत्र में अब एक्टिव केसों की संख्या 20 हो गई बताई गई है। बता दें नागरिक अस्पताल में हर रोज सैंकड़ों लोग अपने इलाज व अन्य कार्यों से आते हैं। ऐसे में अस्पताल स्टाफ के ही कोरोना पॉजीटिव पाए जाने पर स्थिति गंभीर सी हो गई है। अस्पताल प्रशासन हुआ सजग कुछ राहत के बाद फिर से कोरोना एक्टिव होने पर अस्पताल प्रशासन भी सजग हो गया है। अस्पताल प्रशासन ने टैस्टिंग की संख्या बढ़ा दी है तथा अस्पताल के सेनेटाईजेशन का कार्य जारी है। कोरोना नोडल अधिकारी डा. विकास गुप्ता ने बताया कि कारोना एक्टिव पाए जाने वाले लोगों को उनके घरों पर ही क्वारंटाईन किया जा रहा है। अस्पताल की कोविड टीम मरीजों को उनके घरों पर जाकर लगातार चेक कर रही है और वहीं पर उन्हे दवाईयां वगैरह दी जा रही है। अगर मरीज को ज्यादा दिक्कत महसूस होगी तो उसे जींद अस्पताल रैफर कर दिया जाएगा।
क्या कहते हैं कोरोना नोडल अधिकारी
कोरोना नोडल अधिकारी डा. विकास गुप्ता ने बताया कि पांचों लोगों को होम क्वारंटाईन कर दिया गया है और एहतियात बरतने के निर्देश जारी किए गए है। उन्होंने कहा कि सरकार इस वायरस को लेकर अत्यंत गंभीर है। लोगों को कोरोना वैक्सिन लगाने का सिलसिला जारी है। अस्पताल में 60 साल से ऊपर के लोगो को यह वैक्सिन लगाई जा रही है। इसके अलावा ऐसे 45 वर्ष से ऊपर के लोग जो हार्ट, लीवर, किडनी शूगर के रोगी है उन्हे भी यह वैक्सिन दी जा रही है। उन्होंने बताया कि नाक लगातार बहते रहना, गले में दर्द व सूजन रहना, सिर दर्द व बुखार रहना व चक्कर आना इसके प्रमुख लक्षण हैं। उन्होंने बचाव के लिए आपस में हाथ ना मिलाए, हाथों को साबुन से बार-बार धोएं, आंख, नाक व मुंह को बार-बार ना छुएं तथा बाहरी खाने, ठंडी वस्तुओं व बासी खाने से परहेज करें। इसके अलावा मुंह व नाक पर मास्क लगाकर रखें। ज्यादा दिक्कत में तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें।

396
Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *