HARYANA SAFIDON Sansani VS NEWS INDIA

सफीदों की हांसी ब्रांच नहर में पिछले चार दिनों में मिली तीन लाशे

VS News India | Reporter – Sanju | Safidon : – सफीदों की हांसी ब्रांच नहर में पिछले चार दिनों में मिली तीन लाशे दो दिन पहले लापता हुए युवक का नहर में मिला शव, मां ने पत्नी व सालों पर लगाए थे बंधक बनाकर मारपीट व लापता करने के आरोप मैं परेशान हो चुका हूं। मेरी पत्नी व मेरे साले मेरे को तंग कर रहे हैं। इसलिए मैं जीना नहीं चाहता। पीछे से मेरे बच्चों को संभाल लेना।  सफीदों एसएचओ ने कहा: पोस्टमार्टम करवाने के बाद करनाल पुलिस करेंगी मामले में जांच,कस्बे की हांसी ब्रांच नहर में गांव सिंघाना के पास बुधवार को दो दिन पहले लापता हुए युवक का शव बरामद हुआ। 
मृतक युवक ही पहचान सफीदों वार्ड नंबर चार निवासी 30 वर्षीय गुलाब के रूप में हुई है। मृतक की मां राजपति द्वारा गुलाब के लापता होने की सूचना करनाल पुलिस को 16 सितंबर को दर्ज करवाई थी। क्योंकि पिछले चार महिला से गुलाब अपनी सुसराल में करनाल की करण बीमार कालोनी में रह रहा था। करनाल पुलिस को दी शिकायत में मृतक की मां राजपति ने गुलाब की पत्नी अमीता, गुलाब के साले अशोक, अमन, उनके रिश्तेदार  कैथल निवासी गोविंद पर बंधक बनाकर मारपीट करने व लापता करने के आरोप लगाए थे। जिसमें करनाल पुलिस ने उक्त सभी के खिलाफ मामला दर्ज अपनी जांच शुरू की हुई थी। लड़के के जन्मदिन के दिन हुआ झगड़ा:-
मृतक की मां राजपति ने सफीदों पुलिस को दिए बयान में बताया है कि पिछले चार महीने से गुलाब करनाल में ही अपनी पत्नी व बच्चों के साथ  रह रहा था। 16 सितंबर को गुलाब सफीदो आया था। जिसने बताया कि गुलाब की उसकी पत्नी अमीता सफीदों के खानसर चौक पर स्थित वेल्डिंग की दुकान बिकवाकर करनाल में उसके भाईयों के साथ काम करवाना चाहती थी। लेकिन उसका लड़का गुलाब सफीदों की दुकान को बेचना नहीं चाहता था। गुलाब कहता था कि मेरा सफीदों में ही मन लगता है। इसलिए मैं दुकानदारी वहीं पर ही करूंगा। गुलाब ने उसकी मां को बताया कि 15 सितंबर  की सायं को करनाल में गुलाब के लड़के का जन्मदिन था। इस दौरान इसी बात को लेकर उनकी कहासुनी हो गई। जिसने कहा कि अमीता व उसके  भाई मेरे साथ मारपीट करते है। गुलाब कुछ घंटे के बाद करनाल जाने की बात कहकर चला गया और दो घंटे बाद उसका फोन आया और  उन्होंने मां से कहा कि मैं परेशान हो चुका हूं। मेरी पत्नी व मेरे साले मेरे को तंग कर रहे हैं। इसलिए मैं जीना नहीं चाहता। पीछे से मेरे बच्चों को संभाल लेना। तभी परिजनों ने गुलाब की तलाश शुरू कर दी। सफीदों के बाईपास पर रामपुरा पुल पर गुलाब की बाइक खड़ी मिली तो उन्होंने  नहर में गुलाब नहीं मिला। जिसके बाद बुधवार को नहर सुखी होने पर शव दिखाई दिया। मामला की सूचना पुलिस को दी गई। पुलिस से शव को  कब्जे में लेकर सफीदोंं के नागरिक अस्पताल लाया गया। जहां से डाक्टरों ने शव को रोहतक पीजीआई रेफर कर दिया है। 
बाक्स:- 
इस मामला में जब कार्यवाहक थाना प्रभारी छतरपाल से बात की गई तो उन्होंने कहा कि इससे पहले करनाल पुलिस द्वारा गुलाब के लापता होने का  मामला दर्ज किया हुआ है। जिसमें उन्हें मृतक की मां की शिकायत पर पत्नी अमीता, साले अशोक, अमन व रिश्तेदार गोविंद के खिलाफ मामला दर्ज  करके अपने जांच शुरू कर रखी है। करनाल पुलिस को शव सौंप दिया गया है। 

सफीदों नागरिक शव का निरीक्षण करते हुए पुलिस व डाक्टर संदीप लांबा
440
Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *