HARYANA JIND VS NEWS INDIA

बिरोली गांव में गन्दे पानी की निकासी के लिए की जाएगी स्थाई व्यवस्था

VS News India | Jind : – जींद खण्ड के बिरोली गांव में गंदे पानी की निकासी के लिए स्थाई व्यवस्था करवाई जाएगी। जींद के एसडीएम दलबीर सिंह ने यह बात बिरोली गांव का दौरा करते हुए ग्रामीणों से कहीं। उन्होंने ग्रामीणों को आश्वस्त करते हुए कहा कि गांव में न केवल गन्दे पानी की निकासी बल्कि गांव में स्वच्छ पेयजल आपूर्ति को लेकर भी विकास परियोजना के एस्टिमेट तैयार करवाए जाएंगे। उन्होंने कहा कि इन दोनों कार्यों को जल्द पूर्ण करवाने के लिए सभी ग्रामीण जिला प्रशासन का पूर्ण रूप से सहयोग करें। उन्होंने कहा कि गन्दे पानी की निकासी के लिए शहरों की तर्ज पर सीवरेज व्यवस्था या चौड़ी पाईप लाईन डलवाने पर विचार किया जाएगा। इन दोनों व्यवस्थाओं में जो भी स्थाई होगी उसे पूरा करवाया जाएगा।

एसडीएम दलबीर सिंह करीब दो घंटे गांव में रहे, इस दौरान उन्होंने गांव की गलियों में पैदल घूमकर साफ- सफाई व्यवस्था का जायजा लिया। उन्होंने मौके पर ही खण्ड विकास एवं पंचायत अधिकारी से मोबाईल पर बातचीत कर गलियों एवं नालियों की सफाई करवाने के निर्देश दिए। इस दौरान एसडीएम ने गन्दे पानी की निकासी की उचित व्यवस्था करवाने के लिए तालाब तथा ड्रेन का भी मौके पर जाकर जायजा लिया। उन्होंने ग्रामीणों की मांग पर टुटी पाईप लाईन की मुरम्मत करवाने के सम्बन्ध में कहा कि इस कार्य को भी जल्द ही जन स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों से बातचीत कर ठीक करवा दिया जाएगा।

Bajinder Saini EA3

पानी निकासी की व्यवस्था गांव के लिए बन सकती है वरदान :  एसडीएम जब गांव का दौरा कर रहे थे इस दौरान उन्होंने ग्रामीणों से पूछा कि तालाब पर पम्प सैट क्यों लगाए गए है प्रतिउत्तर में लोगों ने बताया कि तालाब में जो गन्दा पानी ईक्कठा हो जाता है उसका उपयोग खेता में सिंचाई के लिए किया जाता है। एसडीएम ने कहा कि गांव के सम्पूर्ण गन्दे पानी को अगर तालाब में एकत्रित करवा लिया जाए तो यहीं पानी गांव के लिए वरदान भी साबित हो सकता है। उन्होंने कहा कि जल्द ही विकास परियोजना पर काम शुरू करवाया जाएगा।

Singhs Computer Education Assandh Ad

कोविड आईसोलेशन सैंटर का किया दौरा :   बिरोली तथा पोली गांव में कोरोना पॉजिटिव केस पाए जाने के बाद इन दोनों गांवों को उपायुक्त डॉ. आदित्य दहिया ने कंटेनमेंट जोन घोषित किया गया है तथा इन संवदेनशील गांवों में कोरोना के संक्रमण को रोकने के लिए कई आवश्यक कदम उठाने के निर्देश दिए है। एसडीएम ने गांव के विद्यालय में स्थपित आईसोलेशन सैंटर का औचक निरीक्षण किया और ग्रामीणों से कहा कि अगर किसी व्यक्ति को कोरोना संक्रमण है तो वे इस आईसोलेशन का सैंटर का स्वास्थ्य लाभ के लिए उपयोग करें। गांव में थर्मल स्केनिंग तथा कोरोना रोधी का छिडक़ाव करवाया जा रहा है।

194
Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.