सपाइयों का हल्लाबोल
Shravasti Uttar Pradesh

सपाइयों का हल्लाबोल

VS News India | Reporter – Vinay Balmiki | Shravasti : – जन समस्याओं तथा नागरिकता संशोधन एक्ट को लेकर सपा कार्यकर्ताओं ने जमकर सरकार विरोधी नारे लगाये। सपाइयों ने श्रावस्ती जनपद के जिला मुख्यालय भिनगा सहित जिले भर में प्रदर्शन किया। सपा कार्यकर्ताओं ने राज्यपाल सम्बोधित 18 सूत्रीय ज्ञापन सौंपा। इस दौरान सपा कार्यकर्ताओं ने भाजपा की राज्य व केंद्र सरकार के विरोध में जमकर नारेबाजी भी की।जिले में धारा 144 लागू होने का बावजूद सपा कार्यकर्ताओं ने निवर्तमान जिलाध्यक्ष जीतेन्द्र यादव की अगुवाई में भिनगा स्थित सपा कार्यालय से सैकड़ो सपाइयों के साथ जुलूस निकाला। सपा का यह जुलूस कलेक्ट्रेट में धरना देने के लिए ही पहुंच रहा था कि पुलिस ने सभी सपाइयों को गिरफ्तार कर लिया लिया। जहां से उन्हें पुलिस लाइन ले जाया गया। सपाइयों को नियंत्रित करने के लिए पुलिस ने हल्का बल प्रयोग भी किया। इस दौरान सपा के निवर्तमान जिलाध्यक्ष जीतेन्द्र यादव ने कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा कि भाजपा शासनकाल में गुंडागिरी, बलात्कार, हत्या लूट, दलाली, रिश्वतखोरी, भ्रष्टाचार, चरम सीमा पर पहुंच चुके हैं। चुनाव से पूर्व सुशासन और अच्छे दिन लाने की बात करने वाली भाजपा सरकार में जंगलराज कायम है। थानों में पीड़ितों की एनसीआर तक दर्ज नहीं की जाती। महंगाई आसमान छू रही है। बहन-बेटियों की आबरू सुरक्षित नहीं है। हर कदम पर योगी-मोदी की सरकार फेल नजर आ रही है। भाजपा ने जनता को छलने का काम किया है। सपा से पूर्व सदर विधायक इंद्राणी वर्मा ने कहा कि भाजपा की केंद्र सरकार ने सुनियोजित तरीके से नागरिकता संशोधन एक्ट जारी कर देश को धार्मिक खांचे में बांटने का काम किया है। जो कि बाबा साहब भीमराव अंबेडकर द्वारा बनाये गए संविधान के आर्टिकल 14 का उलंघन है। जिसे सपा किसी भी कीमत पर बर्दाश्त नही करेगी। उन्होंने कहा कि एनआरसी को भी लागू नही होने दिया जाएगा। पूर्व विधायक ने कहा कि भाजपा की सरकार डीजल, पेट्रोल के बढ़े दाम नियंत्रित नही हो रहे, धान खरीद केंद्रों पर हो रही धांधली हो रही है, विद्युत कटौती, महंगाई, भ्रष्टाचार, बेपटरी हो चुकी कानून व्यवस्था, बेरोजगारी, रिश्वतखोरी, थानों में हो रही दलाली रोकने में असफल रही है। ऐसे में इसे सत्ता में रहने का कोई अधिकार नही है।

412
Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *