Minister of Agriculture, Animal Husbandry of the State addressing the regular meeting of Gausseva Commission.
Chandigarh HARYANA VS NEWS INDIA

प्रदेश की गौशालाओं को आत्मनिर्भर बनाने के लिए गौ उत्पादों पर ध्यान देने की जरूरत – मंत्री जयप्रकाश दलाल

चण्डीगढ़:- हरियाणा के पशुपालन एवं डेयरी मंत्री जय प्रकाश दलाल ने कहा कि प्रदेश् की गौशालाओं को आत्मनिर्भर बनाने के लिए इनमें सौर ऊर्जा संयंत्र, जैव-गैस संयंत्रों की स्थापना और जैविक खाद का उत्पादन करने की व्यवस्था की जाएगी।

मंत्री जयप्रकाश दलाल ने चण्डीगढ़ स्थित सचिवालय के सभागार में हरियाणा गौ सेवा आयोग के अध्यक्ष श्रवण कुमार गर्ग के साथ आयोग की नियमित 18 वीं बैठक की अध्यक्षता रहे थे।

मंत्री ने गौ सेवा आयोग के सदस्यों से आग्रह किया कि गोबर से जैविक खाद बनानेे के लिए गौशालाओं में वर्मि – कम्पोस्टिंग के लिए आवश्यक कार्ययोजना तैयार की जाए ताकि बागवानी विभाग इस जैविक खाद को खरीद कर प्रयोग कर सके। इससे जहां जैविक खेती को बढ़ावा भी मिलेगा वही जमीन की उर्वरकता शक्ति भी बढेगी।

आयोग के अध्यक्ष श्रवण कुमार गर्ग बैठक के दौरान बताया गया कि प्रदेश भर में लगभग 624 गौशालाएं संचालित है जिनमें 4 लाख 50 हजार गौवंश का पालन हो रहा है। उन्होंने बताया कि पहले चरण में 335 गौशालाओं में सोलर पावर प्लांट लगाए गए तथा दूसरे चरण में 225 गौशालाओं में प्लांट लगाए जाऐगें।

बैठक के दौरान मंत्री ने शहरी स्थानीय निकाय व ग्रामीण विकास विभाग के अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि सडको पर घुमने वाली बेसाहरा गौवंश को गौशालाओं में उनकी क्षमता के अनुसार रखा जाए।

बैठक में पशुपालन एवं डेयरी विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव राजा शेखर वुंडरू, गौ सेवा आयोग के अध्यक्ष श्री श्रवण कुमार गर्ग, सचिव डाॅ कल्याण सिंह सहित आयोग के सदस्य और विभिन्न विभागों के अधिकारी मौजूद रहें है।

245
Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *