HARYANA SAFIDON VS NEWS INDIA

नगरपालिका में हुए विकास कार्यों पर एसआईटी जांच करवाने को लेकर आमरण अनशन हुआ शुरू

VS News India | Sanjay Kumar | Safidon :- नगरपालिका सफीदों में कथित घोटालों की एसआईटी जांच करवाने की मांग को लेकर समाजसेवी एवं भाजपा कार्यकर्ता रामदास प्रजापत ने सोमवार को नगर के महाराजा अग्रसेन चौंक पर आमरण अनशन शुरू कर दिया। इस मौके पर समाजसेवी प्रवीण बंसल, आरटीआई कार्यकत्र्ता प्रदीप गर्ग, वरिष्ठ भाजपा नेता सोमदत शर्मा, जिला जींद सचिव सुखदेव राणा व राजबीर आर्य विशेष रूप से उपस्थित थे। रामदास प्रजापत कहा ने कहा कि उनका अनशन सरकार के खिलाफ नहीं है बल्कि पालिका द्वारा किए गए घोटालों के खिलाफ है। हरियाणा सरकार ने तो सफीदों के विकास के लिए ऊपर से 35 करोड़ रुपए की ग्रांट भेज दी, लेकिन पालिका ने उस राशी का दुरुपयोग करते हुए जमकर घोटाले किए। पालिका द्वारा किए गए घोटालों की बात आज सफीदों के बच्चे-बच्चे की जुबान पर हैं। उन्होंने कहा कि सफीदों पालिका घोटाले व भ्रष्टाचार की जांच की मांग को लेकर अनेक बार जिला प्रशासन व स्थानीय प्रशासन को लिखित प्रार्थना पत्र दिए लेकिल कोई कार्रवाई नहीं हुई। उन्होंने इसी वर्ष 8 अप्रैल, 26 अप्रैल व 15 जून को सीएम विंडो हरियाणा पर मुख्यमंत्री को प्रार्थना देने के बाद पत्र देने के बाद भी कोई सार्थक कार्यवाही नहीं हुई है।

मुख्यमंत्री के नाम 15 जून व 7 जुलाई को दो बार एसडीएम के माध्यम से भ्रष्टाचार को लेकर ज्ञापन दिया था लेकिन इस पर भी कोई कार्रवाई नहीं हुई। जिस पर उन्होंने प्रशासन को अल्टीमेटम दिया था कि अगर भ्रष्टाचारियों के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं होती है तो वे आमरण अनशन करेंगे। उसी अल्टीमेटम के तहत उन्होंने आज यह आमरण अनशन शुरू किया है। उन्होंने साफ किया कि जब तक इस मामले की एसआईटी से जांच नहीं हो जाती तब तक वे अनशन से उठने वाले नहीं है। उन्होंने मांग उठाई कि सफीदों पालिका के वर्ष 2016 से वर्ष 2021 तक हुए विकास कार्यों की जांच एसआईटी से हो। नगर में इस दौरान तीन स्वागत द्वार बनाए गए थे। जिनमें से खानसर चौंक वाला स्वागत द्वार भरभराकर गिर चुका है और बाकी बचे दो स्वागत द्वारों की हालत ज्यादा अच्छी नहीं है। वर्तमान समय में राजकीय माध्यमिक विद्यालय आदर्श कालोनी की खाली पड़ी जमीन पर गंदा पानी भरा हुआ है। नगरपालिका द्वारा हाट रोड सफीदों से लगभग 2500 मीटर लंबाई का गंदे पानी की निकासी का नाला अवैध तरीके से बनवाकर उसका गंदा पानी राजकीय माध्यमिक विद्यालय आदर्श कालोनी की खाली पड़ी जमीन में डाल दिया गया है। यहां से गंदे पानी की निकासी का कोई प्रबंध नहीं है। बरसात के समय यह गंदा पानी वार्ड नंबर 14 व 15 गरीब व मजदूरों की आबादी को काफी परेशानी पैदा करता है। उन्होंने मांग उठाई कि नगर में लगाई गई स्ट्रीट लाइटों, हर वार्ड में नालियों में दबाए गए प्लास्टिक पाइप पाइपों की गुणवत्ता व मैटिरियल, रामसर पार्क में भरवाई गई मिट्टी, ठीक सड़कों व गलियों के उखाड़े गए ब्लॉक  कहां बेचे गए, सरला देवी मेमोरियल कन्या महाविद्यालय के पास बनाए गए नाले व सड़क, सरस्वती विद्या मंदिर विद्यालय रोड, महात्मा गांधी मार्ग, गैस एजेंसी रोड, सफीदों में बनाए गए नालों व पालिका द्वारा लगाए गए डस्टबीनों की जांच होनी चाहिए। अगर इन सबकी गहनता से स्वतंत्र एजेंसी के द्वारा जांच करवाई जाए तो बहुत बड़ा घोटाला सामने आ सकता है। रामदास प्रजापत ने साफ किया कि पालिका के विकास कार्यों की जब तक एसआईटी नहीं हो जाती तब तक वे इसी प्रकार आमरण अनशन पर बैठे रहेंगे।

341
Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.