शोभायात्रा का हरी झंडी दिखाकर रवाना करते हुए एस.एच.ओम्
DHARM HARYANA SAFIDON VS NEWS INDIA

महाशिवरात्रि पर्व आत्मा से परमात्मा मिलन का महाकुंभ है: स्नेहलता

VS News India | Reporter – Sanju | Safidon : – प्रजापिता ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय विश्वविद्यालय द्वारा महाशिवरात्रि के उपलक्ष्य में शुक्रवार को नगर में विशाल शोभायात्रा निकाली गई। शोभायात्रा की अध्यक्षता सफीदों सैंटर इंचार्ज बहन स्नेहलता ने की। यात्रा को एस.एच.ओ. देवीलाल ने हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। शोभायात्रा ने प्रजापिता ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय विश्वविद्यालय से शुरू होकर पूरे नगर का भ्रमण किया। यात्रा का नगर के अनेक स्थानों पर भव्य स्वागत किया गया। इस यात्रा में 108 बहनें अपने सिर पर कलश उठाए हुई थी। यात्रा में नारी सशक्तिकरण व शिव भोलेनाथ की प्रतीमा समेत अनेक सुंदर-सुंदर झांकियां निकाली गई। यात्रा में बज रहे भजनों ने माहौल को शिवमय व भक्तिमय बना दिया। बहन स्नेहलता ने बताया कि शोभायात्रा में शामिल कलश उठाए हुई महिलाओं ने जन-जन को संदेश दिया कि परमात्मा ने ज्ञान कलश माताओं के सिर पर रखकर उन्हें यह जिम्मेदारी सौंपी है कि इन माताओं को ही भारत को स्वर्ग बनाना है। सबकी आत्मज्योति का कनेक्शन परमात्मा रूपी ज्योति से है। इस यात्रा के माध्यम से यह भी संदेश दिया गया कि शिव परमाात्मा ही हम सबके पिता हैं और उनसे ही सुख शांति का अधिकार जन्म-जन्मांतर तक प्राप्त हो सकता है। उन्होंने कहा कि परमात्मा का कोई शारीरिक आकार नहीं होता है। परमात्मा अर्थ परिचय सभी को होना आवश्यक है जिससे मनुष्य सार्थक भक्ति की ओर अलौकिक हो सके। सृष्टि की सर्व आत्माओं के पिता एक है वह निराकार है एवं परमधाम से इस धरा पर अवतरित हो चुके हैं। परमात्मा शिव ही सर्वगुणों और शक्तियों के भंडार हैं। सभी आत्माओं के परमपिता हैं। महाशिवरात्रि का पर्व आत्मा और परमात्मा के मिलन का महाकुंभ है।

शोभायात्रा में कलश उठाए हुए महिलाएं।
364
Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *