HARYANA JIND VS NEWS INDIA

विश्व टीबी दिवस पर बुधवार को रेडक्रॉस भवन में कार्यक्रम आयोजित किया गया

VS News India | Jind :- विश्व टीबी दिवस पर बुधवार को रेडक्रॉस भवन में कार्यक्रम आयोजित किया गया। इसमें मुख्यअतिथि के रूप में नागरिक अस्पताल के डिप्टी एमएस डा. राजेश भोला ने शिरकत की जबकि रेडक्रॉस सचिव राजकपूर सूरा ने कार्यक्रम की अध्यक्षता की।
डा. भोला ने कहा कि विश्व क्षय रोग दिवस पूरे विश्व में 24 मार्च को घोषित किया गया है और इसका ध्येय है लोगों को इस बीमारी के विषय में जागरूक करना और क्षय रोग की रोकथाम के लिए कदम उठाना। टीबी अर्थात ट्यूबरक्लोसिस एक संक्रामक रोग होता है, जो बैक्टीरिया की वजह से होता है। यह बैक्टीरिया शरीर के सभी अंगों में प्रवेश कर जाता है। हालांकि ये ज्यादातर फेफड़ों में ही पाया जाता है। मगर इसके अलावा आंतों, मस्तिष्क, हड्डियों, जोड़ों, गुर्दे, त्वचा तथा हृदय भी टीबी से ग्रसित हो सकते हैं। टीबी बैक्टीरिया सांस के माध्यम से फेफड़ों तक पहुंचता है तो वह कई गुना बढ़ जाता है और फेफड़ों को नुकसान पहुंचाता है। ऐसे में इस रोग के प्रति सतर्कता बरतनी आवश्यक है। उन्होंने कहा कि टीबी लाईलाज बीमारी नहीं है। इसका उपचार सभी सरकारी संस्थाओं में मुफ्त किया जाता है। भारत सरकार का लक्ष्य है कि 2025 तक देश को टीबी बीमारी से मुक्त किया जाए। ये तब ही संभव है जब आम जनता इसमें सहयोग करें। दो सप्ताह से ज्यादा खांसी, भूख का कम लगना, वजन का कम होना, बलगम होना, रात में पसीना आना टीबी बीमारी के लक्ष्ण है। इन लक्ष्णों के होने पर नजदीक के स्वास्थ्य संस्था में तुरंत टेस्ट करवाए। टीबी पाई जाती है तो छह महीने तक स्वास्थ्य कार्यकर्ता की देखेरख में दवा खाएं। ये दवा हर स्वास्थ्य केंद्र पर मुफ्त उपलब्ध है। वहीं टीबी रोगी को हर महीने 500 रुपये पोषण भत्ता भी दिया जाता है। रेडक्रॉस सचिव राजकपूर सूरा ने विश्व क्षय रोग दिवस के माध्यम से हमें टीबी जैसी समस्या के विषय में और इससे बचने के उपायों के विषय में बात करने में मदद मिलती है। सुरेंद्र सहारण, सरोज ने कहा कि अभी कोरोना संक्रमण का खतरा टला नहीं है। ऐसे में कोरोना के प्रति हमारी लापरवाही भारी पड़ सकती है। हमें पहले की तरह ही कोरोना के प्रति सजग रहने की जरूरत है। इस मौके पर सुरेंद्र सहारण, सरोज, फैजी, बबीता, पूनम, पिंकी आदि मौजूद रहे।  

213
Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.