Deputy Commissioner Dr Aditya Dahiya
HARYANA JIND VS NEWS INDIA

लघु सचिवालय में स्थापित हुआ कोविड कॉल सैंटर, होश्यिार सिंह होंगे सैंटर के नोडल अधिकारी

VS News India | Jind :- जींद 25 अप्रैल जिला में कोरोना वायरस के फैलाव पर अंकुश लगाने तथा कोविड मरीजों के ईलाज के लिए तमाम प्रबंध पूर्ण करने को लेकर उपायुक्त डॉ. आदित्य दहिया ने वरिष्ठ अधिकारियों समेत  विभिन्न विभागों के अधिकारियों के साथ बैठक कर विस्तृत एक्शन प्लान तैयार किया। बैठक में ऑक्सीजन सिलैण्डर, कोरोना वैक्सीन, पीपी किट से लेकर कोरोना से मरने वाले लोगों के दाह संस्कार करने तक को लेकर तमाम प्रबंध पूर्ण किए गए। उपायुक्त डॉ. आदित्य दहिया ने कहा कि कोरोना वायरस को लेकर जिला में उत्पन्न हो रही परिस्थितियों से निपटने के लिए जिन अधिकारियों की डयूटियां लगाई गई वे इसे पूरी कर्तव्य निष्ठा के साथ निभाना सुनिश्चित करें। उन्होंने सभी डॉक्टरों से कहा गया है कि वे चिकित्सा प्रबंधों की जिम्मेवारी जिला प्रशासन पर छोड़ दें और मरीजों के ईलाज पर पूरा फोक्स करें। सभी प्रकार के चिकित्सा प्रबंध जिला प्रशासन द्वारा समय रहते पूर्ण किए जा रहे है। उन्होंने ऑक्सीजन सिलैण्डर, पीपी किट, कोरोना वैक्सीन इत्यादि चिकित्सा सामग्री का प्रबंध सुनिश्चित करने के लिए जिला नगर आयुक्त संजय बिश्नोई की डयूटी निर्धारित की। चिकित्सा सामग्री निर्बाद्य तरीके से अस्पतालों में पहुंचे इसके लिए डीएमसी के साथ पुलिस विभाग के कर्मियों की एक टीम की डयूटी भी लगा दी गई है और नाकों पर तैनात पुलिस अधिकारियों को निर्देश दिए गए है कि वे ऑक्सीजन लाने वाले वाहनों को न रोकें ताकि कोविड मरीजों को किसी भी प्रकार की चिकित्सा सामग्री उपलब्ध करवाने में कोई देरी न हो।

Singhs Computer Education Assandh Ad

उपायुक्त ने रोड़वेज महाप्रबंधक जींद बिजेन्द्र सिंह को जिला में कोरोना वैक्सीन, पीपी किट तथा ऑक्सीजन सिलैण्डरों की कालाबाजारी पर अंकुश लगाने के लिए नोडल अधिकारी नियुक्त किया। रोड़वेज महाप्रबंधक की टीम में सम्बन्धित तीन विभागों के अधिकारी तथा इतनी ही संख्या में पुलिस विभाग के अधिकारी शामिल किए गए है। उन्होंने छापेमारी टीम को निर्देश देते हुए कहा कि वे तुंरत कालाबाजारी करने वाले लोगों को पकडऩे के लिए छापेमारी अभियान शुरू करें। अगर कोई व्यक्ति इन चिकित्सा सम्बन्धि चीजों की कालाबाजारी करने की सूचना देता है तो जिला प्रशासन द्वारा उसे सम्मानित किया जाएगा और व्यक्ति का नाम भी गुफ्त रखा जाएगा। उन्होंने जीएम रोड़वेज से कहा कि वे तुंरत इण्डियन मैडिकल एशोसियेशन जींद के साथ बैठक करें और एसएमओ से भी बातचीत करें और साथ यह भी पता लगाने का प्रयास करें कि चिकित्सा उपकरणों/कोरोना वैक्सीन व ऑक्सीजन सिलैण्डर की कहीं कालाबाजारी तो नहीं हो रही है, अगर कहीं ऐसा होता पाया जाता है तो तुंरत सख्त कार्यवाही अमल में लाना सुनिश्चित करें। उपायुक्त ने कहा कि जिला को प्रतिदिन दो मीट्रिक टन ऑक्सीजन  अॅलाट हो रही है जो फिलहाल पर्याप्त मात्रा में है अगर आवश्यकता पड़ी तो ऑक्सीजन की मात्रा को और बढ़वाया जाएगा। डॉक्टर की सलाह के बिना नहीं दें ऑक्सीजन सिलैण्डर : उपायुक्त ने कहा कि जिला में पर्याप्त मात्रा में ऑक्सीजन सिलैण्डर व कोरोना वैक्सीन, वेंटिलेटर, पीपी किट, आईसीयु बैड उपलब्ध है। किसी भी कोविड मरीज को घबराने की जरूरत नहीं है। उन्होंने ऑक्सीजन सिलैण्डर बेचने वाले लोगों से कहा है कि वे डॉक्टर की अनुमति के बिना किसी भी व्यक्ति को ऑक्सीजन सिलैण्डर न दें, अक्सर देखने में आता है कि जिन लोगों को ऑक्सीजन सिलैण्डर की आवश्यकता नहीं है वे व्यक्ति भी ऑक्सीजन सिलैण्डर ले लेते है। उन्होंने सभी एसडीएम को निर्देश दिए कि वे अपने- अपने क्षेत्र में नागरिक हस्पतालों के आसपास धर्मशालाओं व अन्य जगहों पर 2०-2० बैड का  अस्थाई हस्पताल भी तैयार करवाएं। कोविड कॉल सैंटर हुआ स्थापित : कोविड मरीजों की सहायता के लिए जिला प्रशासन द्वारा लघु सचिवालय   में कोविड कॉल सैंटर स्थापित कर दिया है।

जो कोविड मरीज घरों में क्यूरन टाईन है और वहीं अपना ईलाज करवा रहे है ऐसे मरीजों को तमाम प्रकार की चिकित्सा सुविधा उपलब्ध करवाने में यह सैंटर काफी लाभकारी साबित होगा। कोई भी मरीज कॉल सैंटर के हैल्प लाईन नम्बर ०1681-24615० से सम्पर्क कर ऑक्सीजन सिलैण्डर, कोरोना वैक्सीन अन्य चिकित्सा सुविधाएं प्राप्त कर सकता है। हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण के ईओ होशियार सिंह को कोविड कॉल सैंटर का नोडल अधिकारी नियुक्त किया गया है। कोरोना संक्रमण से मरने वाले लोगों के लिए शमशान घाट व कब्रिस्तान निर्धारित : उपायुक्त ने सभी चारों उपमण्डलों के एसडीएम को निर्देश दिए कि वे कोरोना संक्रमण से मरने वाले लोगों के दाह संस्कार के लिए शमशान घाट व कब्रिस्तान निर्धारित करें। इन्हीं निर्धारित स्थलों पर कोरोना संक्रमण से मरने वाले लोगों का दाह संस्कार करवाना सुनिश्चित करें। दाह संस्कार के लिए निर्धारित शमशान घाट पर दिन- रात्रि के लिए अलग- अलग टीमों की डयूटी रहेगी। यहीं नहीं दाह संस्कार के लिए लकडिय़ों समेत अन्य प्रबंध भी पूर्ण करना सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा कि कोविड संक्रमण से अगर किसी भी जिलावासी की मृत्यु हिसार, रोहतक  व अन्य जिलों में होती है तो उसका दाह संस्कार जींद जिला में ही करवाया जाएगा। कोरोना के प्रति जागरूक करने के लिए शुरू हुआ अभियान : उपायुक्त ने कहा कि लोगों को कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाने के लिए जिला प्रशासन द्वारा जागरूकता अभियान भी शुरू कर दिया गया है। नगर परिषद/नगर पालिकाओं की कुड़ा- कर्कट उठाने वाले वाहनों के माध्यम से मुनादी करवाई जा रही है। सूचना एवं जन सम्पर्क विभाग द्वारा भी जागरूकता अभियान को और तेज किया जाएगा।  इस मौके पर जींद के एसडीएम राजेश कुमार, सफीदों के एसडीएम मंदीप कुमार, उचाना के एसडीएम प्रीतपाल, नरवाना के एसडीएम सुरेन्द्र कुमार, जिला नगर आयुक्त संजय बिश्नोई, जींद रोड़वेज के महाप्रबंधक बिजेन्द्र सिंह, सीएमओ मनजीत सिंह समेत अन्य विभागों के अधिकारी मौजूद रहे।

149
Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.