कस्तूरबा गांधी विद्यालय जमुनहा का डीएम ने किया औचक निरीक्षण Shravasti
KHAS KHABAR Shravasti VS NEWS INDIA

कस्तूरबा गांधी विद्यालय जमुनहा का डी एम ने किया औचक निरीक्षण

VS News India | Vinay Balmiki | Shravasti : – श्रावस्ती । विकासखण्ड जमुनहा के अन्तर्गत हरदत्तनगर गिरंट में संचालित कस्तूरबा गांधी विद्यालय का जिलाधिकारी ओ0पी0 आर्य ने औचक निरीक्षण कर यंहा पर अध्ययनरत छात्राओं से उनका कुशल क्षेम जाना तथा उनको विद्यालय द्वारा दी जाने वाली पाठ्य पुस्तक, खाद्य सामग्री एवं अन्य सुविधाओं के बारे में जानकारी ली तथा छात्राओं से पूरे मन लगाकर पढ़ाई करने का उन्होने अपेक्षा भी की। निरीक्षण के दौरान विद्यालय में की गई आपूर्ति खाद्य पदार्थ, चावल और आटा में कीडा पाये जाने तथा वार्डेन द्वारा मांगे गये खाद्य पादार्थों/वस्तुओं की मांग के अनुरूप कम उपलब्ध कराये जाने पर जिलाधिकारी ने गहरी नाराजगी जताते हुये यंहा पर तैनात लेखाकार को चेतावनी देते हुये कार्य में सुधार लाने का निर्देश दिया है। उन्होने कहा कि लेखाकार की जब खाद्य पदार्थों के मंगवाने और उसकी गुणवत्ता देखने की जिम्मेदारी है तो क्यों अपने दायित्वों का सही ढंग से निर्वहन नही किया गया जब आटा और चावल में कीड़े युक्त है तो इसकी सूचना सम्बन्धित अधिकारियों को क्यों नही दी गई इस सब लापरवाही के कारण जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी से पूरा ब्यौरा तलब किया है। उन्होने कहा कि सरकार कस्तूरबा में अध्ययनरत बालिकाओं को बेहतर शिक्षा देकर उनके भविष्य को संवारने के साथ ही उनकी स्वास्थ्य की देखभाल भी सरकार द्वारा किये जाने का निर्देश है। इसलिये उन्हे सरकार द्वारा प्रदत्त सभी सुविधाएं समय से मुहैया कराई जाये यदि इसमें किसी भी प्रकार की शिथिलिता पाई गई तो निश्चित ही सम्बन्धित अधिकारी/कर्मचारी दण्डित होगें। यंहा पर तैनात वार्डेन ने छात्राओं को बैठने हेतु मेज और बेंच विद्यालय के चारो कोने में सौर उर्जा लाइट तथा रसोई के सामने बाहर इण्टर लाकिंग कराने के साथ ही विद्यालय में गणित अध्यापक की व्यवस्था कराने का अनुरोध किया। इस प्रकरण को गम्भीरता से लेते हुए जिलाधिकारी ने मुख्य विकास अधिकारी को कार्यवायी करने का निर्देश दिया। इसके साथ ही उन्होने बच्चियों का समय-समय पर स्वास्थ्य परीक्षण करवाते रहने का निर्देश दिया। जिलाधिकारी ने वार्डेंन को यह भी निर्देश दिया है कि यदि विद्यालय में अध्ययनरत किसी विशेष परिस्थिति में उसे अपने घर जाना है तो उन्हे पूरे लिखा पढ़ी के साथ उनके माता-पिता के साथ ही भेजा जाये।निरीक्षण के दौरान मुख्य विकास अधिकारी अवनीश राय, अपर जिलाधिकारी योगानन्द पाण्डेय उपस्थित रहे।

667
Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *