HARYANA JIND VS NEWS INDIA

पुलिस और बच्चों ने एक साथ मिलकर मनाया नशीले पदार्थों के सेवन और अवैध तस्करी के खिलाफ अंतर्राष्ट्रीय दिवस

VS News India | Jind :- 26 जून 2021 शनिवार, पुलिस लाइन जींद के सामुदायिक केंद्र में पुलिस और बच्चों ने एक साथ मिलकर नशीले पदार्थों का सेवन और नशे की तस्करी के खिलाफ अंतरराष्ट्रीय दिवस का आयोजन किया गया जिसकी अध्यक्षता पुष्पा खत्री डीएसपी मुख्यालय जींद ने कि कार्यक्रम के मुख्य अतिथि के रूप में जींद के पुलिस अधीक्षक वसीम अकरम ने शिरकत की। इनके अलावा इस कार्यक्रम में सुहिता दुग्गल मुख्यमंत्री सुशासन कार्यक्रम में सहयोगी, डीएवी पुलिस पब्लिक स्कूल के प्राचार्य राजेश कुमार, जींद पुलिस प्रवक्ता अमित कुमार, रमेश बनवाला राष्ट्रीय स्कूल ड्रामा के कलाकार, डीएवी पुलिस पब्लिक स्कूल की अध्यापिका सीमा कुंडू व उर्मिल चहल व बच्चे मौजूद थे। इस कार्यक्रम में नरेश जागलान मनोवैज्ञानिक एवं सदस्य हरियाणा बाल आयोग मुख्य वक्ता के तौर पर शामिल हुए। यह कार्यक्रम एएसपी सफीदों नितिन अग्रवाल आईपीएस की अध्यक्षता में सफीदों में व डीएसपी साधु राम की अध्यक्षता में नरवाना में भी आयोजित किए गए। जींद पुलिस अधीक्षक श्री वसीम अकरम ने कहां की नशा एक बीमारी है और इसका इलाज संभव है नशा करने वाले व्यक्ति को तरिष्कृत करने की बजाय उसे समझाने व इलाज करवाने की आवश्यकता है। पुलिस विभाग नशे के खिलाफ लगातार सुचारू रूप से अपनी भूमिका निभा रहा है। नशे के खिलाफ जागरूकता जरूरी है। नशा बीमारी बन जाता है नशा छोड़ा जा सकता है नशा छुड़ाने का सही तरीका होना चाहिए। पुलिस का काम है नशे की सप्लाई रोकना नशीले पदार्थ एक जगह से दूसरी जगह बिकते है। पुलिस उन पर लगातार रोक लगा रही है लेकिन नशे की डिमांड को रोकना पूरे समाज की जिम्मेदारी है सबसे पहली भूमिका स्कूलों की है वे विद्यार्थियों को समझाएं कि नशा बहुत ही घातक समस्या है।

Bajinder Saini EA3

इस कार्यक्रम के मुख्य वक्ता नरेश जागलान मनोवैज्ञानिक एवं सदस्य हरियाणा बाल आयोग ने बताया कि नशा बड़ा हो या छोटा वह हमारे मानसिक व शारीरिक दोनों रूप से खतरनाक है। उन्होंने सभी उपस्थित प्रतियोगियों को शपथ दिलाई कि इस जानलेवा घातक लत से जीवन भर दूर रहें। अपनी जिंदगी में किसी एक व्यक्ति के जीवन को नशा मुक्त बनाने का प्रयत्न करें। इस दौरान राष्ट्रीय स्कूल ड्रामा के कलाकार रमेश भनवाला ने इस विषय पर कविता के माध्यम से अपने विचार व्यक्त किए। मुख्यमंत्री के सुशासन कार्यक्रम की सहयोगी सुहीता दुग्गल ने NADA India foundation के अध्यक्ष सुनील वात्स्यायन को इस कार्यक्रम में ऑनलाइन जोड़कर उनके विचारों को इस कार्यक्रम में मौजूद अधिकारियों व प्रतिभागियों को बहुत ही सुंदर तरीके से जागरूक किया। विशेष रूप से उन्होंने स्कूल के विद्यार्थियों के प्रश्नों के जवाब दिए। उन्होंने स्लोगन दिया कि share drug facts to save lives. डीएवी शताब्दी पब्लिक स्कूल की अध्यापिका श्रीमती सुजाता शर्मा व सुशील रेढू की अगुवाई में 25 विद्यार्थियों ने विभिन्न प्रतियोगिताओं में हिस्सा लिया। कार्यक्रम के अंत में प्रतियोगिताओं के परिणाम घोषित किए गए जिनमें पोस्टर मेकिंग में प्रथम स्थान स्नेहा दलाल, द्वितीय स्थान पलक व तृतीय स्थान वंशिका ने प्राप्त किया।भाषण प्रतियोगिता में प्रथम स्थान साक्षी द्वितीय स्थान अक्षिता व तृतीय स्थान विशेष और नेहा ने प्राप्त किया। कविता पाठ प्रतियोगिता में प्रथम स्थान गंगा व गीतिका ने प्राप्त किया। कार्यक्रम के अंत में डीएवी पुलिस पब्लिक स्कूल के प्राचार्य राजेश कुमार ने सभी प्रतिभागियों का धन्यवाद किया हुआ बच्चों को नशे से दूर रहने का संदेश दिया।

Singhs Computer Education Assandh Ad
148
Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.