Crime HARYANA SAFIDON VS NEWS INDIA

निशाना ना चुके इसलिए मर्डर करने से पहले आरोपी राहुल किए थे 17 राउंड फायर, 

Vs News India |Sanjay Kumar | Safidon :- सफीदों के एएसपी नीतिश अग्रवाल ने पै्रस कांफे्रस करके खुलासा किया कि जमीनी विवाद के कारण गांव हाड़वा में सतप्रकाश उर्फ सत्तू की हत्या की गई थी। 5 दिन पहले हुए इस मर्डर के मामले में पुलिस ने आरोपी राहुल को गिरफ्तार किया है । पुलिस इससे पहले राहुल के पिता सतबीर को गिरफ्तार कर चुकी है।  मंगलवार को पिल्लूखेड़ा थाना प्रभारी छत्रपाल सिंह ने आरोपियों को कोर्ट में पेश किया जिसमें से सतबीर को न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है तथा उसके बेटे राहुल को पुलिस ने कोर्ट से 2 दिन के रिमांड पर लिया है। एएसपी नीतीश अग्रवाल ने बताया कि 22 जुलाई को आरोपियों ने गांव हाडवा के सत्यप्रकाश उर्फ सत्तू की खेत में ही गोली मारकर हत्या कर दी थी। पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज करके उनकी तलाश शुरू कर दी थी जिसमें फिलहाल आरोपी सतबीर व उसके लड़के राहुल को सफीदों बाईपास के पास से गिरफ्तार किया गया है। पुलिस ने आरोपियों के कब्जे से फिलहाल 2 अवैध पिस्टल व 80 जिंदा कारतूस बरामद किए हैं। इसके साथ-साथ वारदात के दौरान जो अल्टो कार प्रयोग की गई थी उसे भी पुलिस ने बरामद कर लिया है। फिलहाल पुलिस 2 दिन के रिमांड के दौरान आरोपियों से इस हत्याकांड में शामिल अन्य लोगों के बारे में पूछताछ करेगी। साथ ही पुलिस उस व्यक्ति को भी तलाश रही है जिस व्यक्ति द्वारा इन्हें अवैध पिस्टल उपलब्ध करवाएं गए। एसपी नीतीश अग्रवाल ने बताया कि फिलहाल उत्तर प्रदेश के शामली जिले के रहने वाले एक युवक का नाम सामने आ रहा है। जल्द ही पुलिस उत्तरप्रदेश में भी दबिश देकर आरोपी को गिरफ्तार करेगी। एएसपी नीतिश अग्रवाल ने बताया कि उक्त आरोपियों का सतप्रकाश उर्फ सत्तू के साथ जमीनी विवाद चला हुआ था।

जिसकी अगली सुनवाई 3 अगस्त को होनी थी लेकिन इससे पहले ही राहुल व उसके साथियों ने मिलकर सतप्रकाश की हत्या करने का की योजना बनाई और खेत में काम कर रहे सतप्रकाश की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। गौरलतब है कि 22 जुलाई को हत्म्या के बाद पिल्लुखेड़ा पुलिस को दिए बयान मे मृतक के भाई विजय प्रकाश का कहना था कि उसके भाई ने रोझला माईनर के समीप खेती की जमीन ठेके पर ली हुई है, जिसमे धान की रोपाई को नर्सरी से पौध निकालकर उसकी गठरी बांध उसने आज सत्तू की मोटरसाईकिल पर रखवाई थी और वह रामनगर-हाडवा रोड पर चल पड़ा था कि बीच रास्ते कुछ दूरी पर ही एक सफेद रंग की एक कार में से सतबीर के तीन बेटे जगफूल, राहुल व रविंद्र उतरे जिनके हाथों मे पिस्तोल थे। तीनों ने उसके भाई पर गोलियां चलाई और आरोपी सतबीर कार की चालक सीट पर बैठा रहा जहां एक अन्य व्यक्ति भी उसके साथ था जिसे वह नही जानता। गोलियां लगने से उसके भाई की मौके पर ही मौत हो गई और हमलावर इसके बाद असले सहित फरार हो गए। पुलिस ने मृतक के भाई विजय प्रकाश के बयान पर इसी गांव के सतबीर व उसके तीन बेटों जगफूल, राहुल, रविंद्र तथा एक अन्य के विरूद्ध हत्या व शस्त्र अधिनियम के तहत मामला दर्ज किया था। 

162
Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.