सफीदों में रोजगार के लिए स्थापित करवाऊंगा इंडस्ट्रियल एरिया, किसने कही यह बात
HARYANA KHAS KHABAR SAFIDON VS NEWS INDIA

सफीदों में रोजगार के लिए स्थापित करवाऊंगा इंडस्ट्रियल एरिया, किसने कही यह बात

VS News India | Reporter – Sanju | Safidon : – विधानसभा में इस बार ऐसा लग रहा है कि सफीदों गांगोली का चुनाव हल्के की जनता लड़ रही है, क्योंकि दिन-प्रतिदिन उसका चुनाव उठता ही जा रहा है। जिसका मुख्य कारण है उनके द्वारा कभी भी जात-पात की राजनीति को तवज्जो नहीं दी गयी है, उनकी जमात क्षेत्र की जनता है। चुनावी ग्रामीण दौरों के दौरान उनको हर गांव मेंं 36 बिरादरी के लोगों का समर्थन मिल रहा है। गांव मालसरी खेेड़ी में उनका ग्रामीणों द्वारा फूल मालाओं से भव्य स्वागत किया गया। ग्रामीणों को संबोधित करते हुए वरिष्ठ नेता सुभ्भाष गांगोली ने कहा कि यह चुनाव मै नहीं, आप लड़ रहे हो। सुभाष गांगोली द्वारा विधायक को मिलने वाले मानदेय को भी समाज सेवा में लगाने का वादा कर दिया गया है। जिसके लिए हर विधायक चुनाव लड़ने की  चाहात रखता है, लेकिन उनकी मुख्य ध्यद समाजसेवी करना है। जनसभा को संबोधित करने के बाद पत्रकारों से बात करते हुए सफीदों हल्के  की जनता के नेता प्रसिद्ध समाजसेवी सुभाष गांगोली ने कहा कि अगर इस विधानसभा चुनाव में सफीदों की जनता उन्हें विधायक बनाती है तो वह सफीदों के व्यापारियों के लिए इंडस्ट्रियल एरिया स्थापित करवाने का काम करेंगे। जिससे क्षेत्र के उद्योगपतियों को सीएलयू व एनओसी बनवाने के लिए दस विभाग की मार नहीं झेलनी पड़ेगी और साथ ही सफीदों में अनेकों उद्योग स्थापित होंगे। इससे हजारों युवाओं को भी रोजगार मिलेगा। सुभाष गांगोली ने कहा कि आज से 29 साल पूर्व सफीदों में जहां 32 राइस मिल होते थे, वहीं आज केवल चार ही रह गए है। 28 राइस मिल के बंद होने का कारण हल्के के पूर्व विधायकों द्वारा सरकार से इंडस्ट्रियल एरिया की तरफ से कोई भी सुविधा नहीं न मिलना है। आज से दस साल पहले सफीदों में दर्जन भर गलीचा फैक्ट्रियां भी होती थी जो आज नहीं है। इन फैक्ट्ररियों में सौ से अधिक श्रमिक अपना कार्य करते थे। ऐसे नहीं है कि सफीदों में उद्योगपति नहीं रहें। क्षेत्र में इंडस्ट्रियल एरिया नहीं होने के कारण सफीदों के अधिकतर उद्योगपतियों ने दूसरे राज्यों जैसे दिल्ली,फरीदाबाद व अपने नजदीकी एरिया पानीपत में अपने उद्योग स्थापित करने पड़े। सफीदों के लिए बेरोजगारी सबसे बड़ी समस्या बनी हुई है। जिसका समाधान किसी भी विधायक ने अभी तक नहीं करवाया है ।

821
Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *