HARYANA SAFIDON VS NEWS INDIA

हम आजाद हैं और आजाद ही रहेंगे, शायद इसीलिए लगाया था नाम के पीछे आजाद: सुजीत आजाद

VS News India | Sanjay Kumar | Safidon : – कस्बे के आदि शंकराचार्य कॉन्वेंट पब्लिक स्कूल में शहीद भगत सिंह की जयंती के उपलक्ष पर कार्यक्रम आयोजित किया गया। कार्यक्रम में शहीद चंद्रशेखर आजाद के भतीजे पंडित सुजीत आजाद ने बतौर मुख्य वक्ता के रूप में शिरकत की और शहीद भगत सिंह, चंद्रशेखर आजाद व राजगुरू की प्रतिमा पर पुष्प माला अर्पित की। कार्यक्रम अध्यक्षता स्कूल प्राचार्य डॉक्टर आर यू तिवारी ने की। कार्यक्रम के दौरान विद्यार्थियों को संबोधित करते हुए शहीद चंद्रशेखर आजाद के भतीजे पंडित सुजीत आजाद ने कहा कहां कि उनका मुख्य उद्देश्य है हर युवा में देशभक्ति का जज्बा और जुनून उत्पन्न करना है। ताकि देश की एकता व अखंडता कभी खंडित ना हो। भगत सिंह ने मात्र 24 साल की उम्र में ही उन्होंने देश के लिए अपने प्राण निछावर किए थे।

उन्होंने कहा कि उनका संबंध किसी राजनीतिक संगठन से नहीं है, बल्कि वह हर युवा में शहीद भगत सिंह, चंद्रशेखर आजाद एवं राजगुरु आदि देखना चाहते हैं। उन्होंने कहा कि चंद्रशेखर आजाद ऐसे क्रांतिकारी थे जिन्होंने जात-पात से ऊपर उठकर अपना नाम आजाद रखा।
जबकि सच्चे अर्थों में उनका नाम चंद्रशेखर तिवारी था। उनका नारा था। हम आजाद हैं और आजाद ही रहेंगे। देश के लिए निछावर होकर उन्होंने देश को आजाद कराने में अहम भूमिका निभाई। इसीलिए उन्होंने अपना नाम आजाद रखा था। आज भी उनका परिवार छोटा-मोटा व्यवसाय करके अपनी जीविका का पालन कर रहा है। सुजीत ने कहा कि बचपन से लेकर आज तक उनका परिवार गरीबी से नहीं उभरा।
परंतु देश प्रेम की भावना कभी कम नहीं हुई। आज भी हमारा उद्देश्य देश के कोने कोने में जाकर चंद्रशेखर आजाद अन्य शहीदों की भावनाओं का प्रचार व प्रसार करना है। स्कूल प्राचार्य डॉ आ यू तिवारी ने कहा कि आज शहीदों की कुर्बानी के कारण ही हम खुली हवा में सांस ले रहे हैं और उन शहीदों की बदौलत ही आज देश को आजादी मिली है। इस मौके पर स्कूल के डायरेक्टर अमित गौतम ने उनको स्मृति चिन्ह भेंट कर उनका आभार प्रकट किया।

272
Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.