VS Computer Education

कंप्यूटर Generations

कंप्यूटर Generations

कंप्यूटर में दिन प्रतिदिन हो रहे बदलाव को हम जनरेशन कहते हैं हिंदी में इसे पीढ़ी भी कहा जाता है | शुरूआती दौर से लेकर आज तक जो कंप्यूटर के हार्डवेयर में हो रहे बदलाव को कंप्यूटर जनरेशन कहते हैं | हार्डवेयर के इस बदलाव की वजह से कंप्यूटर को हमारी निजी जिन्दगी में हो रहे कार्यों को करने में बढावा मिला है | Computer की Generation 1946 से शुरू होकर आज तक चल रही है | Computer की आज तक 5 Generation है जो इस प्रकार हैं : –

  1. First Generation ( पहली पीढ़ी ) 1946 – 54
    1. 1946 से लेकर 1954 तक बने Computers को First Generation की श्रेणी में रखा गया है | First Generation computers में Vacuum Tubes का Use करके बनाया गया था |

Example – ENIAC, EDSAC, EDVAC

  • Second Generation ( दूसरी पीढ़ी ) 1954 – 64
    • 1954 से लेकर 1964 तक बने Computers को Second Generation की श्रेणी में रखा गया है | Second Generation Computers Vacuum Tubes की जगह पर Transistors का Use करके बनाया गया था |

Example – IBM700, ATLAS, ICL 1901

  • Third Generation ( तीसरी पीढ़ी ) 1964 – 80
    • 1964 से लेकर 1980 तक बने Computers को Third Generation की श्रेणी में रखा गया है | Third Generation Computers में Transistors की जगह पर ( IC ) Integration Circuits का Use करके बनाया गया था |

Example – IBM360 Series, Honeywell 6000 Series, IBM 370

  • Fourth Generation ( चौथी पीढ़ी ) 1980 – Up to Present
    • 1980 के बाद बनने वाले Computers को Fourth Generation की श्रेणी में रखा गया है | Fourth Generation Computers में ( IC ) Integration Circuits की जगह पर  ( VLSI ) Very Large Integrated Circuits का Use करके बनाया गया था |
  • Fifth Generation ( पाँचवी पीढ़ी )
    • Fifth Generation कंप्यूटर पर अभी कार्य चल रहा है | Japan और USA जैसे देश Fifth Generation computers को बनाने में जुटे हुए हैं | इन कंप्यूटर में यह तीन बाते मौजूद रहेंगी : –
      • Mega Chip Memory
      • The ability to extensive use of parallel processing, and
      • Artificial Intelligence.
341
Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.