HARYANA SAFIDON VS NEWS INDIA

युवा बेरोजगार फिर रहे और किसान सड़कों पर परेशान हो रहे हैं – शैलजा

VS News India | Sanjay Kumar | Safidon : – कांग्रेस पार्टी की प्रदेश अध्यक्ष कुमारी शैलजा ने कहा कि भाजपा-जेजेपी ने हरियाणा प्रदेश की सरकार को खटारा सरकार बना कर रख दिया है। आज युवा बेरोजगार फिर रहे और किसान सड़कों पर है। पढ़ाई करने के बाद भी युवाओं को नौकरी नहीं मिल रही। सभी पेपरों को सरकार द्वारा लीक करवा दिया जाता है। यह शब्द उन्होंने सफीदों में महिला पंचायत कार्यक्रम को संबोधित करते समय कहें। बुधवार को सफीदो की महाराजा शूर सैनी धर्मशाला में महिला कांग्रेस की जिलाध्यख्क्ष सुनीता चंदन की अध्यक्षता में कार्यक्रम आयोजित किया गया था। जिसमें कुमारी शैलजा बतौर मुख्यातिथि और प्रदेशाध्यक्ष सुधा भारद्वाज विशिष्ट अतिथि पहुंची हुई थी।

कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष कुमारी शैलजा ने संबोधित करते हुए कहा कि महिलाओं को जो आज पहचान मिली है उनके नेता राजीव गांधी द्वारा दी गई है। उसकी सोच थी कि महिलाएं भी सरपंच बने और अपनी चौधर दिखाए। इसलिए उन्होंने पंचायती राज एक्ट में महिलाओं को आरक्षण दिया देने काम किया था। कुमारी शैलजा ने भाजपा पर निशाना साधते हुए कहा कि भाजपा सरकार को सात साल हो गए हैं लेकिन इस भारतीय जनता पार्टी की सरकार ने कोई विकास कार्य नहीं किए।। आज तक कोई भी बीपीएल कार्ड नहीं बनाया गया। वैसे तो कहते हैं बच्चों को पढ़ाओ, लेकिन युवा बेरोजगार फिर रहे हैं। भाजपा द्वारा सभी पेपर को लीक किया जा रहा है। सरकारी नौकरी युवाओं को देर नहीं रहे।
ऐसे में देश में मोदी और प्रदेश में इस दुष्यत और खट्टर ने प्रदेश में खटारा सरकार बनाकर रख दी है।  

उन्होंने कहा कि भाजपा-जेजेपी सरकार ने जनता के साथ धोखा किया है। आज बिना मांगे तीन कानून किसानों के ऊपर थोप दिए गए हैं। आज किसान सड़कों पर फिर रहा है और युवा बेरोजगार होकर गली गली फिर रहा है। नौकरी तलाशने से भी नहीं दे रहें है। प्रदेश में सत्ता सरकार ने ऐसे हालात लाकर खड़े कर दिए हैं कि एक बार तो अभिभावकों को भी अपने बच्चों की महंगी पढ़ाई करवाने वक्त सोचना पड़ेगा। इस मौके पर सफीदों कांग्रेस विधायक सुभाष गांगोली,असंध विधायक शमशेर सिंह गोगी, महिला जिलाध्यक्ष सुनीता चंदन, मूर्ति देवी साहनपुर, दलवेंद्र चंदन, राममेहर देशवाल, रणबीर सरपंच आदि मुख्य रूप से मौजूद रहें।

396
Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.