भक्ति, शक्ति और बलिदान का पर्व है बसंत पंचमी- जीतेन्द्र देशवाल
HARYANA SAFIDON VS NEWS INDIA

भक्ति, शक्ति और बलिदान का पर्व है बसंत पंचमी- जीतेन्द्र देशवाल

VS News India | Reporter – Sanju | Safidon : – पिल्लूखेड़ा, 30 जनवरी 2020। उपमंडल के पिल्लूखेड़ा मंडी में स्थित दयानंद महाऋषि सीनियर सेकेंडरी स्कूल में गुरूवार को बसंत पंचमी उत्सव मनाया गया। कार्यक्रम के मुख्यातिथि स्काईलार्क समुह निदेशक व युवा नेता जीतेन्द्र देशवाल ने मां सरस्वती की प्रतिमा पर दीप प्रज्जवलित कर कार्यक्रम की शुरूआत की। विद्यार्थियों ने कविता पाठ, भाषण, नाटिका आदि में शानदार प्रदर्शन कर अपनी प्रतिभा का परिचय दिया। जीतेन्द्र देशवाल ने बताया कि मां सरस्वती की अराधना से ज्ञान में वृद्धि होती है। बसंत पंचमी भक्ति, शक्ति और बलिदान का पर्व है। उन्होने कहा कि इसी दिन माता शबरी ने भगवान श्रीराम को जूठे बेरों का रसास्वाद किया। बसंत पंचमी के दिन ही पृथ्वीराज चौहान ने आत्मबलिदान दिया था। उन्होने कहा कि शिक्षक समाज का दर्पण होता है। उसकी शिक्षा समाज को नई दिशा और रोशन प्रदान करती है। एक शिक्षित व्यक्ति ही अपना व समाज का भला कर सकता है। गरीबी दूर करने का भी एकमात्र माध्यम शिक्षा ही है। जीतेन्द्र देशवाल ने बेटियों की शिक्षा पर जोर देते हुए कहा कि बेटियों को स्वावलंबी बनाये ताकि वह भविष्य में किसी पर निर्भर न रहें। उन्होने कहा कि मां-बाप को नौनिहालों का आदर्श बनना चाहिए। बच्चों को विद्याालय से शिक्षा और घर से संस्कार मिलते है। संस्कार विहीन शिक्षा का समाज में कोई स्थान नहीं है। संचालक बिजेंद्र कुंडू ने मौजूदा सत्र में स्कूल की उपलब्धियों के बारे में जानकारी दी। जीतेन्द्र देशवाल ने मेधावी छात्रों को पुरूस्कृत किया। इस मौके पर कालवा तपा प्रधान दिलबाग कुंडू, आर्य सभा प्रधान ईश्वर आर्य तेजबीर, बिजेन्द्र, मास्टर छाजुराम, बलराज धड़ौली, दिनेश जामनी, राजबीर कुंडू, रामफल, जसबीर रजाना, देवी प्रसन्न आर्य, डाक्टर सूरज भान, प्रदीप, कुलदीप देशवाल, कर्ण सिंह, कृष्ण, रणबीर, वेद सैनी, रणबीर रोहिल्ला, दलेर कुंडू, रामचन्द्र, बिट्टू, जोगिन्दर पहलवान, नीरज इत्यादि लोग मौजूद थे।

676
Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *